पुराने रास्ते पर लौट रहे हैं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री-राम गोविंद चौधरी

लखनऊ,  उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने कहा कि इस समय प्रदेशवासी केवल कानून व्यवस्था का शासन बहाल करने व बेटियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की मांग कर रहे हैं। यही मांग समाजवादी पार्टी और विपक्ष भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंचाना चाहता है, लेकिन उनकी टीम समाजवादी पार्टी और विपक्ष के माध्यम से उठ रही इस आवाज को बर्बर दमन और गिरफ्तारी के बल पर कुचल देने की कोशिश में लगी है।समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राम गोविंद चौधरी ने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश में अपहरण, हत्या, लूट व डकैती की आए दिन हो रही घटनाओं के साथ ही सूबे को बीमार प्रदेश बनाने के बाद मुख्यमंत्री अपने पुराने रास्ते पर लौट रहे हैं। इसे लेकर प्रदेश के लोग सावधान रहें और किसी भी कीमत पर आपसी सद्भाव और भाईचारे का माहौल बनाए रखें।सोमवार को जारी बयान में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि विकास नहीं पसंद करने वाले जातीय व सांप्रदायिक दंगा भड़काने की साजिश कर रहे हैं। यदि ऐसा है तो भाजपा के कार्यकर्ता विपक्ष के इस षड्यंत्र का पर्दाफाश करें। योगी आदित्यनाथ ने बतौर मुख्यमंत्री अपने ऊपर लगे मामलों को वापस नहीं लिया होता तो वह आज इस बड़ी कुर्सी की जगह खुद कानून की गिरफ्त में होते।समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राम गोविंद चौधरी ने कहा कि अब तो खुद उनकी भी पार्टी के संवेदनशील और समझदार लोग प्रतिरोध की इस आवाज का हृदय से समर्थन कर रहे हैं। इस स्थिति से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए अचानक मुख्यमंत्री को दंगा-दंगा खेलने के अपने पुराने खेल का बोध हुआ है। समाजवादी पार्टी के साथी मुख्यमंत्री व उनकी टीम की ओर से होने वाले दंगों को रोकने के लिए बड़ी से बड़ी कुर्बानी देने के लिए तैयार रहें।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या