सभी थानों में दर्ज होने वाली शिकायतों की दर्ज करवाने वालों को मिलेगी पावती रसीद ।


लखनऊ । 


 डीजीपी  एच सी अवस्थी का बड़ा फैसला 


जल्द ही प्रदेश के सभी थानों में दर्ज होने वाली शिकायतों की दर्ज करवाने वालों को मिलेगी पावती रसीद ।


अब  नहीं गुम होंगे थानों से शिकायती पत्र और न ही छुपाए जा सकेंगे।


 अब थानों में शिकायती पत्र देने वाले हर फरियादी को मिलेगी रिसीविंग।
  प्रदेश के डीजीपी हितेश चन्द्र अवस्थी ने जारी किए निर्देश।।


डीजीपी एच सी अवस्थी द्वारा जारी की गई शिकायतकर्ता को रिसीव कराने वाली पर्ची 


महिला हेल्प डेस्क एवं आगन्तुक कक्ष की स्थापना 


• एक कॉचयुक्त पारदर्शी कमरा जो कि बिजली, पंखा, पीने के पानी से युक्त होगा।


कम्प्यूटर टेलीफोन, मोबाइल से युक्त रिसेप्शन बनाया जायेगा।


• आगन्तुक/शिकायतकर्ता के बैठने की व्यवस्था होगी।


• कैमरा की व्यवस्था की जायेगी।


• एक कर्मचारी/होमगार्ड नियुक्त किया जायेगा जो कि आने वाले आगन्तुकों को पानी पिलाने का कार्य करें।


• शिकायतकर्ता को शिकायत लिखने के लिये स्टेशनरी उपलब्ध होगी।


महिला हेल्प डेस्क एवं आगन्तुक कक्ष में नियुक्त कर्मियों द्वारा किये जाने वाले कार्य का विवरण


थाने में आने वाले हर आगन्तुक/शिकायतकर्ता/पीड़ित महिलाओं को सर्वप्रथम रिसेप्शन पर नियुक्त कर्मचारीगणों द्वारा अटेन्ड किया जायेगा।


शिकायतकर्ता का विवरण कम्प्यूटर में फीड किया जायेगा।


शिकायर्ता के प्रार्थना-पत्र को स्कैन कर कम्प्यूटर फोल्डर में फीड किया जायेगा, जिसका एक टोकन नम्बर होगा, जो कि शिकायतकर्ता व जांच अधिकारी को दिया जायेगा। रिकार्ड के रूप में सुरक्षित रखा जायेगा। इस पर सील मोहर लगायी जायेगी।


शिकायतकर्ता को उसके प्रार्थना-पत्र की प्राप्ति की रसीद दी जायेगी, जिस पर टोकन लिखा होगा।


• टोकन में समस्त जानकारी दर्ज होगी।


• रिसेप्शन द्वारा थाना प्रभारी व बीट प्रभारी को शिकायतकर्ता के बारे में अवगत कराया जायेगा।



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या