"शक्ति दो मां शक्ति दो

"शक्ति दो मां शक्ति दो
अपने चरणों में भक्ति दो।
जय अम्बे जगदम्बे मैया
जगनौका की तुम्हीं खेवैया।
हम तो मात शरण में तेरी
अपने चरणों में भक्ति दो
शक्ति दो मां शक्ति दो।
असुरों को संहारन वाली
दुष्टों को तुम मारन वाली
सारे जग को उद्धारन वाली
हम सबको भी शक्ति दो।
शक्ति दो मां शक्ति दो
अपने चरणों में भक्ति दो।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या