उत्तर प्रदेश में  सड़क को युद्ध स्तर पर किया जा रहा है गड्ढामुक्त

v


उत्तर प्रदेश में  सड़क को युद्ध स्तर पर किया जा रहा है गड्ढामुक्त।
 
सड़कों के नवीनीकरण एवं सुदृढ़ीकरण का कार्य भी प्रगति पर ।



 लखनऊः 27 अक्टूबर 2020


 उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य  के कुशल दिशा निर्देशन में प्रदेश  मे सड़कों के गड्ढामुक्त करने का कार्य युद्ध स्तर पर कराया जा रहा है। लोक निर्माण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार चालू  वित्तीय वर्ष में लोक निर्माण  विभाग  के अधीन 56700 अधिक लंबाई में मार्गों को गड्ढायुक्त के रूप में चिन्हित किया गया है ,जिसमें से 27000 किलोमीटर से अधिक सड़कों को गड्ढामुक्त किया जा चुका है। गड्ढामुक्त अभियान में विभिन्न त्योहारों पर जगह जगह लगने वाली भीड़ के मद्देनजर उन सड़कों को प्राथमिकता के आधार पर पूरा कराया जा रहा है, जहां पर त्योहारों के दृष्टिगत बहुत जरूरी है । गड्ढामुक्त सड़कों  करने के कार्य के अतिरिक्त लगभग  20500 किलोमीटर  से अधिक लम्बाई मे  मार्ग के  नवीनीकरण किये जाने हेतु वित्तीय स्वीकृतियां  निर्गत की जा चुकी है, जिसके सापेक्ष 4500किलोमीटर से अधिक सड़कों को नवीनीकृत भी किया जा चुका है ।
वर्ष 2019 -20 में 52121 किलोमीटर  लंबाई मे सड़कों को गड्ढामुक्त किया गया और 23000 किलोमीटर से अधिक लंबाई की मार्गो को नवीनीकृत भी किया गया है ।इसी तरह  वर्ष 2018-19 में लगभग 44376 किलोमीटर लंबाई में मार्गों को गड्ढामुक्त कराने के साथ-साथ 20100 किलोमीटर से अधिक लम्
बाई मे मार्गों को  नवीनीकृत किया गया ।
 गौरतलब है कि वर्ष 2017 -18 में प्रदेश सरकार  के गठन के उपरांत प्रदेश की सड़कों को गड्ढामुक्त करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया और सभी विभागों की लगभग 358000 किलोमीटर सड़कों में से 107000 किलोमीटर सड़कें तत्समय  गड्ढायुक्त पाई गई थी, जिन्हें गड्ढामुक्त करने हेतु अभियान चलाया गया था। लोक निर्माण विभाग की 235000 किलोमीटर लंबाई की सड़कों में से 85160किलोमीटर लंबाई मे सड़कें गड्ढायुक्त पायी गयीं, जिन्हें निर्धारित समय गड्ढामुक्त कर दिया गया था,साथ ही साथ लगभग 37,000   किमी० मार्गो को  नवीनीकृत किया गया था। 
 उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सड़कों के गड्ढामुक्त कार्य को शीघ्र से शीघ्र पूरा किया जाए तथा कार्यों की गुणवत्ता पर  व मानको पर विशेष नजर रखी जाए


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या