वीएचएनडी पर बांटी जाएंगी आयरन की गोलियां 

0 स्कूल बंद होने की वजह से स्वास्थ्य विभाग का फैसला


0 10 से 19 साल तक के किशोर-किशोरियों को बांटी जाएंगी गोलियां


0 प्रत्येक बुधवार को गांवों में मनाया जाता है वीएचएनडी दिवस 



हमीरपुर, 20 अक्टूबर 2020


राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरकेएसके) के तहत ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस (वीएचएनडी) पर 10 से 19 साल तक के किशोर-किशोरियों को रक्ताल्पता से बचाने को लेकर आयरन की गोलियां वितरित की जाएंगी। इस बार प्राइमरी स्तर के बच्चों को अभियान में शामिल नहीं किया गया है। मंगलवार को इस अभियान में अहम भूमिका निभाने वाली शहरी क्षेत्र की एएनएम और मुख्य सेविकाओं को रानी लक्ष्मीबाई तिराहा स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (शहरी) में एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के बाद सभी को प्रमाण पत्र वितरित किए गए। 


एक दिवसीय प्रशिक्षण में राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के डीईआईसी मैनेजर गौरीश राज पाल ने कहा कि अभियान के दौरान कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करें। स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों की बंदी की वजह से प्रत्येक बुधवार को गांवों में होने वाले ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस के मौके पर 10 से 19 तक के स्कूल जाने वाले किशोर-किशोरियों और इसी आयु वर्ग की स्कूल न जाने वाली किशोरियों को आयरन की गोलियां बांटी जानी है। गोलियां सीधे बच्चों को न देकर उनके अभिभावकों को दी जाएं। एक बार में ही प्रत्येक बच्चे को आठ गोलियां दी जानी है। जिन्हें प्रति सप्ताह खाना खाने के बाद एक गोली का सेवन करना है। 


अर्बन हेल्थ कोआर्डिनेटर पीयूष ने प्रशिक्षण में जानकारी दी कि गोली खाने वाले बच्चों को गोली खाने के एक से दो घंटे तक चाय-दूध का सेवन नहीं करना है। गोली पानी के साथ खाई जाएगी। किसी भी तरह की बीमारी से ग्रसित बच्चों को दवा नहीं दी जाएगी। प्रशिक्षण प्राप्त करने वाली एएनएम और मुख्य सेविका को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के जिला कार्यक्रम प्रबंधक सुरेंद्र साहू ने प्रमाण पत्र वितरित किए। प्रशिक्षण में शहरी क्षेत्र की एएनएम व मुख्य सेविकाएं मौजूद रही। 



आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के स्वास्थ्य की जांच हुई 


मंगलवार को शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ‘फिट हेल्थ वर्कर अभियान’ के तहत कोरोना के खिलाफ अहम भूमिका निभाने वाली फ्रंट लाइन वर्करों के स्वास्थ्य की जांच की गई। बड़ी संख्या में स्वास्थ्य केंद्र पहुंची आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के ब्लड प्रेशर, डायविटीज और तीन तरह के कैंसर की जांच की गई। 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?