वृद्ध महिला के अंतिम दर्शन में आये विलक्षण प्रजाति के बंदरों का झुंड


अविश्वसनीय खबर है प्रतापगढ के लालगंज अझारा से* जहाँ पर बुआ का पुरवा बेलहा में आज सुबह एक 70वर्षीय महिला की मृत्यु हो जाती है जिसकी मृत्यु के कुछ देर बाद अचानक कही से 8 बंदरों का एक झुंड आ जाता है । सभी बंदर महिला को घेर कर बैठ जाते हैं और एक बंदर महिला को गोद में लेकर अफसोस प्रकट करता । फिर करीब 4 घंटे महिला के पास रहने के पश्चात सभी बंदर वहां से चले जाते हैं । *इस आश्चर्यजनक घटना को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ लग जाती है, लोग इसे मृतका के पुण्यकार्यो का बखान करते हुए इसे भगवान का आशीर्वाद मानते हैं तो कुछ ग्रामीणो का कहना है ये दैवीय चमत्कार है। भगवान अपने प्रिय भक्तों के उद्धार के लिए इसी तरह किसी न किसी रूप में दर्शन देकर चमत्कार करते* ।
     बताते चलें कि लालगंज तहसील से कुछ दूरी पर स्थित गांव बेलहा निवासी शिवपति देवी (70) पत्नी विंदेश्वरी पटेल एक साधारण स्त्री थी किन्तु वो पूजा पाठ में विश्वास रखतीं थी और गांव में "भक्तिन" के नाम से मशहूर थी। उनकी मृत्यु के पश्चात इस तरह उनके अंतिम दर्शन में लंगूर बंदरों का अचानक आ जाना जिले में चर्चा का विषय है और लोग इसे किसी चमत्कार से कम नहीं मान रहे हैं ।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या