130 खादी संस्थाओं के धनराशि रू0 358.37 लाख के उत्पादन आधारित दावों का भुगतान किया गया

22754 कत्तिनों/बुनकरों को धनराशि रू0 121.85 लाख
प्रोत्साहन बोनस के रूप में उनके बैंक खाते में स्थानान्तरित की गयी

लखनऊ, दिनाॅक: 28 नवंबर, 2020
  अपर मुख्य सचिव खादी तथा ग्रामोद्योग श्री नवनीत सहगल ने बताया कि योजनान्तर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 में अद्यतन 130 खादी संस्थाओं के धनराशि रू0  358.37 लाख के उत्पादन आधारित दावों का भुगतान किया गया, जिसके सापेक्ष धनराशि रू0 236.52 लाख खादी संस्थाओं को भुगतान किया गया तथा 22754 कत्तिनों/बुनकरों को धनराशि रू0 121.85 लाख प्रोत्साहन बोनस के रूप में उनके बैंक खाते में स्थानान्तरित की गयी।
श्री सहगल ने बताया कि उ0प्र0 खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा पं0 दीनदयाल उपाध्याय खादी विपणन विकास सहायता के अन्तर्गत खादी संस्थाओं को उनके उत्पादन के आधार 15 प्रतिशत सहायता प्रदान की जाती है, जिसका 34 प्रतिशत अंश संस्थाओं में कार्यरत कत्तिनों/बुनकर को प्रोत्साहन बोनस के रूप में सीधे उनके बैंक खाते में स्थानान्तिर की जाती है, 33 प्रतिशत अंश खादी संस्थाओं को अवस्थापना सुविधा विकास एवं 33 प्रतिशत अंश विपणन संवर्धन हेतु अर्थात कुल 66 प्रतिशत अंश का भुगतान किया जाता है।
अपर मुख्य सचिव ने बताया कि खादी संस्थाओं के माध्यम से खादी उद्योग के अन्तर्गत प्रदेश के दूरस्थ ग्रामीण ़क्षेत्रों में रोजगार के अवसर पैदा होते है, इसलिए आवश्यक है कि प्रदेश में खादी के उत्पादन को बढ़ावा दिया जाए, जिसका दृष्टिगत रखते हुए वित्तीय वर्ष 2017-18 में खादी वस्त्रांे की बिक्री पर छूट योजना के द्वारा उत्पादन पर छूट आधारित पं0 दीनदयाल उपाध्याय खादी विपण विकास सहायता शासनादेश निर्गत होने की तिथि से लागू की गयी है, जिसे 01 अक्टूबर, 2017 से लागू किया गया है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या