बलरामपुर मे पत्रकार की जघन्य हत्या, सख्त कारवाई, आर्थिक सहायता की मांग

लखनऊ, 28 नवंबर: इंडियन फेडरेशन आफ वर्किंग जर्नलिस्ट्स
( आईएफडब्ल्यूजे ) उपाध्यक्ष और उत्तर प्रदेश मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के अध्यक्ष हेमंत तिवारी ने बलरामपुर जिले में पत्रकार राकेश सिंह की जलाकर हुई जघन्य हत्या पर क्षोभ जताते हुए प्रदेश सरकार से कड़ी कारवाई की मांग की है।  हेमंत तिवारी ने कहा कि बलरामपुर जिले में तैनात अधिकारियों की नाक के नीचे बीते काफी समय से पत्रकारों का उत्पीड़न और उन पर हमले होते रहे हैं पर सरकार ने कोई एक्शन नहीं लिया। बलरामपुर जिले में लंबे समय से तैनात जिलाधिकारी ने न केवल पत्रकार की सुरक्षा की मांग की अनदेखी की बल्कि कई पत्रकारों पर मुकदमे दर्ज कराया। जिलाधिकारी से दिवंगत पत्रकार ने अपनी हत्या की आशंका भी जताई थी।  उन्होंने कहा कि बलरामपुर मे पत्रकार के घर पर दबंगों ने हमला बोल कर आग लगा दी जिसमें एक व्यक्ति की मौके पर जलकर मौत हो गई। बुरी तरह से जले पत्रकार राकेश सिंह की लखनऊ ट्रामा सेंटर में मौत हो गई। तिवारी ने कहा कि प्रदेश सरकार अविलंब दोषियों को गिरफ्तार कर रासुका मे निरुद्ध करे और जिले के जिम्मेदार अधिकारियों को हटाए। संवाददाता समिति अध्यक्ष हेमंत तिवारी व वरिष्ठ उपाध्यक्ष अजय श्रीवास्तव ने प्रदेश सरकार से दिवंगत पत्रकार राकेश सिंह के परिजनों को 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की मांग के साथ ही आश्रित पत्नी को नौकरी देने का अनुरोध किया है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या