डा.मानसिंह को प्रथम वरीयता बनाये स्नातक मतदाता : तिलक यादव






ब्लाक बिरधा में बैठक कर स्नातक क्षेत्र झांसी खण्ड के चुनाव को लेकर हुआ मंथन*

*स्नातक मतदाताओं से सघन जनसम्पर्क करने का सपा कार्यकर्ताओं से आह्वान*


ललितपुर। इलाहाबाद झांसी खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव में अब कुछ दिन शेष हैं। ऐसे में समाजवादी पार्टी से एमएलसी प्रत्याशी डा.मानसिंह यादव को प्रथम वरीयता दिलाये जाने को लेकर ब्लाक बिरधा में समाजवादी पार्टी की महत्वपूर्ण बैठक जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. की अध्यक्षता में संपन्न हुयी। बैठक में स्नातक मतदाताओं से सघन जनसम्पर्क करते हुये एमएलसी प्रत्याशी को प्रथम वरीयता दिलाये जाने को लेकर उनकी नीतियों से स्नातक मतदाताओं को अवगत कराने का आह्वान किया गया।

बैठक में सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. ने कहा कि शिक्षक-कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली को लेकर लम्बा संघर्ष किया जा रहा है, जिसे बहाल करायी जाना प्रथम कार्य होगा। इसके अलावा स्नातक या उच्च शिक्षित बेरोजगार युवाओं को प्रदेश में रिक्त पदों पर स्थायी नियुक्ति, प्रतियोगी परीक्षाओं को गृह जनपद में कराये जाने और इन परीक्षाओं में शुल्क के स्थान पर निशुल्क व साक्षात्कार के लिए भत्ता व्यवस्था करायी जायेगी। उन्होंने आगे बताया कि वित्त विहीन शिक्षकों को सम्मानजनक वेतन व मानदेय एवं सेवा पुस्तिका तैयार कराने का प्रयास किया जायेगा, इसके साथ ही शिक्षामित्रों को फिर से समायोजित कराते हुये प्राथमिक शिक्षक के पूर्ण वेतनमान, सुविधाओं के साथ सम्मान दिलाना भी प्राथमिकता में है। राज्य कर्मचारियों की भांति सभी शिक्षकों को शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को चिकित्सीय लाभ दिलाने तथा समाप्त किये गये भत्ते व सुविधायें बहाल करायी जायेगी। बैठक में कृष्ण स्वरुप निरंजन, अमर सिंह यादव, रमेश यादव ठेकेदार, विजय यादव, अशोक अहिरवार, जयपाल राजपूत, नीतेश विश्वकर्मा, प्रवीण यादव, खिलान सिंह, राजेंद्र पटेल, बाबूलाल पाल, अजीत पटेल, संतोष अहिरवार, तिलक सिंह यादव, राजेश यादव, राजेंद्र दुबे, जय सिंह यादव, जीतेन्द्र यादव, रामानसिंह, दानसिंह घोष रीछपुरा, महेंद्र सिंह, मनोज कुशवाहा, शिवम विश्वकर्मा, रिंकू विश्वकर्मा, नीतेश कुमार विश्वकर्मा, रामकुमार कुशवाहा, रामकुमार साहू, भूपेन्द्र भोंता, अरविंद अण्डेला, मनोज राजपूत आदि मौजूद रहे।


 

 




 

Attachments area



 



 



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या