लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ में महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय रोजगार अध्ययन पीठ की स्थापना किए जाने हेतु एक करोड़ रुपए स्वीकृत

लखनऊ: 02 नवम्बर, 2020
     
                       
    प्रदेश सरकार ने लखनऊ विश्वविद्यालय, लखनऊ में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को रोजगार विषयक बेहतर ज्ञान प्राप्त करने का अवसर तथा विद्यार्थियों को रोजगार तथा रोजगार प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किए जाने के उद्देश्य से महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय रोजगार अध्ययन पीठ की स्थापना किए जाने हेतु वित्तीय वर्ष 2020 21 के आय व्यय क में प्राविधानित 200.00 लाख ( दो करोड़) रुपए में से प्रथम चरण में  100.00 लाख (एक करोड़) रुपए की वित्तीय स्वीकृति प्रदान कर दी है। इस संबंध में उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आदेश जारी कर दिया गया है।
     जारी आदेश में कहा गया है कि धनराशि का व्यय सुसंगत वित्तीय नियमों के अनुसार पीठ के उद्देश्यों के लिए ही किया जाएगा। धनराशि सहायता अनुदान के रूप में व्यक्त की जा रही है विश्वविद्यालय द्वारा अनुदान के संबंध में सुसंगत नियमों एवं समय-समय पर जारी शासनादेशों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाएगा तथा स्वीकृत धनराशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र नियमानुसार शासन को उपलब्ध कराया जाएगा।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर