मीरजापुर व सोनभद्र के लिये वरदान साबित होगी वाटर ट्रीटमेंट परियोजना -डा0 महेन्द्र सिंह

मीरजापुर व सोनभद्र के लिये वरदान साबित होगी वाटर ट्रीटमेंट परियोजना -डा0 महेन्द्र सिंह


उ0प्र0 की जनता को मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिये प्रदेश सरकार है संकल्पित


22 नवम्बर को मीरजापुर-सोनभद्र में  प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री जी के द्वारा पाइप पेयजल योजना का शुभारम्भ



मिरजापुर, 20 नवम्बर, 2020- प्रदेश के  जलशक्ति विभाग एवं जल संसाधन, बाढ नियंत्रएर, लघु सिंचाई, नमामिगंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति मंत्री डा0 महेन्द्र सिंह ने आज अष्अभुजा निरीक्षण गृह में प्रेस-प्रतिनिधियों से वार्ता कर आगामी 22 नवम्बर को मीरजापुर एवं सोनभद्र में होने वाले वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के शिलान्यास के बारे में जानकारी दीइस अवसर पर  मंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश देश में विकास के क्षेत्र में पहले स्थान पर पहुंचे इसके लिये  मुख्यमंत्री जी दिशा निर्देशन में कार्ययोजना चतुर्मुखी विकास की ओर कार्य किया जा रहा है।  मंत्री ने कहा कि लोगों को मूलभूत सुविधाएं प्रापत हो सके इसके लिये सरकार दृढसंकल्पित है।  मंत्री ने आगामी 22 नवम्बर को 2020 को मीरजापुर एवं सोनभद्र में पाइप पेयजल योजना के माध्यम से हर घर को नल से जल के बारे में जानकारी देते हुये कहा कि  मुख्यमंत्री जी के द्वारा बुन्देलखण्ड और विन्ध्य क्षेत्र के लोगों को शुद्ध पेयजल हर घर को नल के माध्यम से से उपलब्ध कराने के लिये 23 वाटर टीमेंन्ट प्लांट का शिलान्यास  प्रधानमंत्री जी के द्वारा वर्चुअल एप के माध्यम से एवंमुख्यमंत्री जी के द्वारा जनपद सोनभद्र में मुख्यमंत्री जी के उपस्थिति में किया जा रहा है। जिसमें 09 परियोजना मीरजापुर एवं 14 परियोजना सोनभद्र जिले में किया जायेगा। उन्होंने कहा कि यह परियोजना मीरजापुर एवं सोनभद्र के लिये वरदान साबित होगी, यह भी बताया कि परियोजना को आगामी 2022 तक पूर्ण कर लेने का लक्ष्य रखा गया है परन्तु कोशिश की जायेगी कि निर्धारित लक्ष्य से पहले पूर्ण करा लिया जाये। मंत्री जी ने बताया कि बताया कि  प्रधानमंत्री एवं  मुख्यमंत्री के निर्देशन में प्रदेश के सभी ग्राम पंचायतों में आगामी 2024 तक हर घर को नल से जल के द्वारा शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराये जाने का लक्ष्य है। उनोंने यह भी बताया कि विभाग के द्वारा जल संरक्षण एवं कहा कि शिलान्यस के अवसर पर सभी परियोजनाओं पर एल0ई0डी0 के माध्यम से  प्रधानमंत्री व  मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रमों को लाइव दिखाया जायेगा तथा प्रत्येक स्थल पर कहीं  सांसद, विधायक व अन्य जनप्रतिनिधियों की उपस्थित के साथ गांव के लोगों की भी सहभागिता रहेगी।



 मंत्री ने नहरों की सफाई तथा किसानों के खेतों तक टेल तक पानी मुहैया कराने के लिये प्रत्येक नहरों को एक-एक अधिकारी के द्वारा एडाप्त किया जायेगा जो उस नही की निगरानी करेगें। कहा कि सफाई के दौरान प्रत्येक नहरा पर कार्य का नाम, कुल लागत, कुल किलोमीटर, लिख होगा तथा ड्रोन कैमरे के द्वारा वीडिरूोग्राफी एवं फोटोग्राफी करायी जायेगी। उन्होंने अटल भूजल योजना के बारे में में भी विस्तृत जानकारी दी तथा कहा कि भूजल स्तर को उपर लाने की दिशा में विभाग के द्वारा कार्य किया जा रहा है। कहा सभी नहरों के गेट की रंगाई एवं सभी ट्यूवेलोक की रंगाई तथा सभी ट्यूवेलों को चालू हालत में रखा जायेगा ताकि किसानों के सिंचाई के लिये परेशानी न होने पाये।  मंत्री जी के द्वारा सोभाग्य योजना, उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री आवास, आयुष्मान भारत,किसान सम्मान निधि योजना सहित अन्य संचालित योजनाओं के बाबरे में विस्तृत जानकारी भी गयी। इसके पूर्व  मंत्री जी के द्वारा  विधायक मझंवा श्रीमती सुचिश्मिता मौर्य,  विधायक छानवे श्री राहुल प्रकाश, जिलाधिकारी श्री सुशील कुमार पटेल, पुलिस अधीक्षक श्री अजय कुमार सिंह, से मुलाकात कर विकास कार्यो एवं शिलान्य होने वाले परियोजना के तैयारियों के बारे में जानकारी प्राप्त की गयी। तदुपरान्त मा0 मंत्री जी के द्वारा सिांचई विभाग, जल निगम, सिंचाई नहर प्रखण्ड, भू जल विभाग सहित अपने विभाग से सम्बंधित अन्य अधिकारियों के साथ बैठक कर प्रगति की जानकारी एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या