प्रदेश की परिवहन सेवाओं में बना है महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान

लखनऊ, 02 नवम्बर 2020
     प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा और सम्मान के लिए चलाये जा रहे विशेष अभियान के तहत उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन निगम द्वारा प्रचार-प्रसार की ब्रांडिंग की गई है। प्रदेश के सभी बसों, ओला, ऊबर व अन्य टैक्सी, आटो, ई-रिक्शा के चालकों को महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा एवं सम्मान के लिए आॅनलाइन विहैवियरल प्रशिक्षण दिया गया है। प्रदेश के समस्त 75 जनपदों तथा परिवहन निगम के सभी डिपों में स्थापित पब्लिक एट्रेस सिस्टम के माध्यम से यात्री वाहनों में महिलाओं की सुरक्षा एवं सम्मान से सम्बन्धित आॅडियो विजुअल सामग्री का प्रसारण सड़क सुरक्षा सप्ताह सहित समस्त शारदीय नवरात्रि के स्थलों पर नियमित रूप से किया जा रहा है।
     महिलाओं की सुरक्षा एवं सम्मान के लिए यात्री वाहन चालकों को और अधिक उत्तरदाई एवं संवेदनशील बनाये जाने के लिए शपथ दिलाई गई। परिवहन बसों के समस्त यात्री बस व अन्य चालकों को सड़क सुरक्षा हेतु शपथ दिलाई गई कि वे नशे की हालत में वाहन नहीं चलायेंगे। वाहन चलाते समय हमेशा सीटबेल्ट लगायेंगे और मोबाइल का प्रयोग नहीं करेंगे। वाहन निर्धारित गति और अपने लेन/साइड से ही चलायेंगे। गलत साइड से ओवरटेक नहीं करेंगे और एम्बुलेंस व अग्निशमन के वाहनों को तुरन्त साइड देंगे। सभी वाहन चालकों को यह भी शपथ दिलाई गई कि वे अपनी आंखों एवं स्वास्थ्य की नियमित जांच एवं थकान व नींद की स्थिति में वाहन नहीं चलायेंगे। सभी वाहन चालकों ने यह भी शपथ ली कि वे महिला यात्रियों का सदैव सम्मान करेंगे और उनकी सुरक्षा के लिए तत्पर रहेंगे।
     परिवहन निगम द्वारा सोशल मीडिया, आॅडियो विजुअल सामग्री, आलेख, कविता, कहानी, नारे, प्रेरणादायक व्हाट्सअप, फेसबुक तथा ट्वीटर के माध्यम से नियमित रूप से महिला सुरक्षा और सम्मान के लिए जागृति लाई जा रही है। विभाग द्वारा पोस्टर, स्टीकर सभी वाहन में चस्पा कर दीवालों पर पेंटिंग कर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। परिवहन विभाग की 12 पब्लिसिटी वैन के माध्यम से भी प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। विभाग द्वारा इस कार्य हेतु नोडल अधिकारी भी नियुक्त किये गये हैं।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर