सहकारिता के माध्यम से ग्रामीण किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है -मंत्री, मुकुट बिहारी वर्मा


लखनऊ: 19 नवम्बर, 2020
प्रदेश के सहकारिता मंत्री श्री मुकुट बिहारी वर्मा ने कहा कि विभागीय कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर किया जाना चाहिए। विभागीय दायित्वों को जिम्मेदारी के साथ करना सुनिश्चित किया जाये। उ0प्र0 राज्य भण्डारण निगम निरन्तर प्रगति की ओर अग्रसर है। सहकारिता के माध्यम से ग्रामीण किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है।
यह बातें श्री वर्मा आज 67वें अखिल भारतीय सहकारिता सप्ताह के छठवें दिन उ0प्र0 राज्य भण्डारण निगम एवं उ0प्र0 सहकारी संघ के संयुक्त तत्वावधान में निगम के सभाकक्ष में कोआपरेटिव फार यूथ, महिला और वर्कर सेसन’’ विषय पर आयोजित गोष्ठी का शुभारम्भ दीपप्रज्ज्वलित करने के उपरान्त कही। उन्होंने कहा कि 67 वर्ष पहले भी ग्रामीण क्षेत्र में सहकारिता विभाग कार्य कर रहा है। ग्रामीण क्षेत्र के किसानों को विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए कार्य करना चाहिए। गोष्ठी में युवाओं को रोजगार, स्किल डेवलपमेंट तथा उद्यमिता के विकास हेतु सहकारी संस्थाओं के योगदान तथा भविष्य में सहकारी संस्थाओं के माध्यम से महिलाओं तथा कमजोर वर्गो का सशक्तिकरण कैसे किया जाये, इस पर विस्तृत चर्चा की गई।
इस अवसर पर गोष्ठी में प्रबन्ध निदेशक, एल0डी0बी0, श्री ए0के0 सिंह, अपर आवास आयुक्त व अपर निबन्धक, श्री वरूण कुमार मिश्रा, अपर आयुक्त व अपर निबन्धक, सहकारिता, श्री जमुना प्रसाद पाण्डेय, कार्यकारी निदेशक, पी0सी0एफ0, श्री आलोक दीक्षित, प्रबन्ध निदेशक, यू0पी0सी0बी0, श्री भूपेन्द्र कुमार विश्नोई, प्रबन्ध निदेशक, पी0सी0यू0, श्री मनोज कुमार, संयुक्त सचिव, सहकारिता, उ0प्र0 शासन श्री राजमणि पाण्डेय, मुख्य महाप्रबन्धक, यू0पी0सी0बी0 श्री रमेश बाबू, संयुक्त आयुक्त व संयुक्त निबन्धक, सहकारिता श्री विनोद कुमार पटेल, प्रबन्ध निदेशक, उ0प्र0 सहकारी संघ, श्री राजीव यादव तथा उ0प्र0 राज्य भण्डारण निगम के प्रबन्ध निदेशक, श्री श्रीकान्त गोस्वामी उपस्थित रहे। गोष्ठी का संचालन श्री संजीव कुमार राय, महाप्रबन्धक तथा श्री धीरज चन्द्रा, विशेष कार्याधिकारी द्वारा सभी को धन्यवाद ज्ञापित कर सम्पन्न हुई।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि