उमंग के तीन साल पूरे होने के मौके पर केन्द्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री की अध्यक्षता में ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया जाएगा



कॉन्फ्रेंस के दौरान कुछ चुनिंदा देशों के लिए उमंग का अंतरराष्ट्रीय संस्करण भी लॉन्च किया जाएगा

ऐप के अंतरराष्ट्रीय संस्करण से अन्य देशों में रह रहे भारतीय छात्रों, एनआरआई और अन्य देशों में रह रहे भारतीय पर्यटकों को भारत सरकार की सेवाएं किसी भी समय प्राप्त करने की सुविधा मिलेगी



Posted On: 21 NOV 2020 3:19PM by PIB Delhi

 

उमंग के तीन साल पूरे होने और 2000+ सेवाओं का लक्ष्य प्राप्त करने के अवसर पर केन्द्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी, संचार तथा विधि एवं न्याय मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद की अध्यक्षता में 23 नवम्बर 2020 को शाम चार बजे एक ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया जाएगा। इसका उद्देश्य करीब 20 भागीदार विभागों से सुझाव और फीडबैक हासिल करना है। उमंग के मुख्य भागीदारों में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ), प्रत्यक्ष लाभ अंतरण विभाग, कर्मचारी राज्य बीमा निगम, स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि और पशु पालन मंत्रालय तथा कर्मचारी चयन आयोग शामिल हैं। सम्मेलन के दौरान विदेश मंत्रालय के सहयोग से उमंग का एक अंतरराष्ट्रीय संस्करण कुछ चुनिंदा देशों जैसे अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, संयुक्त अरब अमीरात, नीदरलैंड, सिंगापुर और न्यूजीलैंड के लिए जारी किया जाएगा। यह संस्करण इन देशों में रह रहे भारतीय छात्रों, प्रवासी भारतीयों और भारतीय पर्यटकों को किसी भी समय भारत सरकार की सेवाएं प्राप्त करने में मदद करेगा। यह भारत को उमंग पर उपलब्ध ‘भारतीय संस्कृति’ सेवाओं के जरिए विश्व तक पहुंच बनाने और विदेशी पर्यटकों में भारत की यात्रा के प्रति दिलचस्पी बढ़ाने में मददगार होगा।


उमंग मोबाइल ऐप (नए युग के प्रशासन के लिए एकीकृत मोबाइल एप्लीकेशन) भारत सरकार का समग्र, एकमात्र, एकीकृत, सु‍रक्षित, बहुआयामी, बहुभाषी, बहुसेवा प्रदाता मोबाइल ऐप है। इसके जरिए केन्द्र और राज्यों के विभिन्न संगठनों की उच्च प्रभाव वाली सेवाओं तक पहुंच उपलब्ध होती है।


उमंग ऐप का विकास इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस विभाग (एनईजीडी) ने किया है। प्रधानमंत्री ने इसे 163 सेवाओं के साथ 23 नवम्बर, 2017 को राष्ट्र को समर्पित किया। सफलतापूर्वक लागू होने के बहुत कम समय के भीतर उमंग ने फरवरी, 2018 में संयुक्त अरब अमीरात के दुबई में आयोजित सरकारों के छठे विश्व सम्मेलन में ‘सर्वश्रेष्ठ एम-गवर्नमेंट सर्विस’ पुरस्कार समेत चार विशिष्ट पुरस्कार प्राप्त किए।


डिजिटल इंडिया की ‘पावर टू इम्पावर’ परिकल्पना के पूरी तरह से अनुरूप, उमंग के विकास का लक्ष्य नागरिकों को ‘ईज ऑफ लिविंग’ उपलब्धा कराना है। जिसमें मात्र एक मोबाइल ऐप के जरिए सरकार की सभी महत्वपूर्ण सेवाओं को बहुत ही सरल और सुगम ढंग से प्राप्त किया जा सकता है।


अब उमंग 2039 सेवाएं (88 केन्द्रीय विभागों से 373, 27 राज्यों के 101 विभागों से 487 और जनोपयोगी सेवाओं के बिलों के भुगतान के लिए 1179 सेवाएं) प्रदान करता है और यह सेवाएं निरंतर बढ़ रही हैं।


उमंग मोबाइल ऐप एंड्रॉयड, आईओएस, सभी वेब ब्राउजिंग मंचों और केएआईओएस (जियो फीचर फोन पर उपलब्ध) पर चुनिंदा 80 सेवाओं के लिए उपलब्ध है। अब तक उमंग को 3.75 करोड़ से ज्यादा लोगों द्वारा डाउनलोड किया जा चुका है और इसके करीब 2.5 करोड़ पंजीकृत यूजर हैं और इसे 01 लाख 36 हजार लोगों ने प्ले स्टोर पर चार की औसत रेटिंग दी है।


उमंग ऐप को 97183-97183 नम्बर पर मिस्ड कॉल देकर डाउनलोड किया जा सकता है और इसे निम्न लिंक्स से भी डाउनलोड किया जा सकता है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या