उम्मीद जगी है नये सुराज की

उम्मीद जगी है नये सुराज की
ले मशालें चल पड़े है लोग मेरे गाँव के 
अब अंधेरा जीत लेगे लोग मेरे गाँव के 
पूछती हैं झोपड़ी और पूछते है खेत भी
कब तलक लुटते रहेंगें, लोग मेरे गाँव के ?
बिन लड़े कुछ भी नहीं मिलता यहां यह जानकर 
अब लड़ाई लड़ रहे है लोग मेरे गाँव के
यह लड़ाई है असमानता की, गरीबी की, बेकारी की जिसे लड़ने के लिऐ केन्द्र और उत्तर प्रदेश सरकार के बीच कशमाकश के चलते संघर्ष की कठिन राह पर एक साथ चलने का बादा किया गया है।उजाले को तलाशती मासूम आंखों के लिऐ अनेक आंगन में रोशनी देने के लिए उन सारे बुनियादी सवालों पर सार्थकता से विचार करके तर्क संगति ढंग से नई राह  बनाने में तत्पर्य रहे।
नौकरशाहों की आचरण नियामावली 2014 बनाकर 19 सूत्र जोड़कर प्रधान मंत्री नरेन्द्र दामोदर मोदी भष्ट्राचार पर नकेल कसने की कबायद कर रहें। यह सवाल आजादी के68 वर्ष बादभी किन्तु परन्तु के बीच लटक रहाहैं मिस्टर परफैक्ट की भूमिका में रहने वाली नौकरशाही अपने कदाचार को छुपाने के लिऐ इतने करीने के साथ व्यवस्था में व्यवधान के नाम पर सुरक्षा तंत्र विकसित कर लेता है कि ताकतवर से ताकतवर सरकारें उनका बाल बाका तक नही करपाती है। दिल्ली, मुम्बई, नोएडा, लखनऊ, बंगलौर, चिन्नई,ऊँटी, फरीदाबाद, जयपुर आदि तेजी से विकसित हो रहे महानगरों में हजारों एकड़ भूमि तथा बड़ी-बड़ी कोठी तथा होटलों के मालिका तथाकथित रूपसे बड़े-बड़े नौकरशाह ही है । मध्य प्रदेश में पकड़े गये आई.ए.एस. जोशी दम्पत्ति तो इस तालाब की सबसे छोटी मछली है जो अनायस ही धो के से जाल में फस गयी है। मगरमच्छों को पकड़ने वाले तो अभी तक जाल ही मौजूद नही है तब उन्हंे पकड़ने की बात करना ही फिजूली नजर आती हैं काला धन लाने की तो बात ही बेमानी लगती है। लालकिला पर झंडा फहराने का सपना सच करने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी खुद को सफल प्रशासक बताते हुए बड़ी-बड़ी बातें करते रहे है अब उन्हें खुद को साबित करके दिखाना होगा। जादुई व्यक्तित्व के तौर पर पेश होकर सत्ता प्राप्त करने के उदाहरण भारतीय इतिहास मंे कम ही है। राजनैतिक नफे नुकसान को छोड़कर आम आदमी के आँसुओं को पोछने केलिए बिकास बनाम रोजगार की जंग तेज हो।
उम्मीद जगी है नये सुराज की
क्या भष्टाचार मुक्त समाज की
डोली उठा रहे वही परबाज जी
जनता को चिडिया समझ बाज जी


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

होमियोपैथी कोरोना के नए वैरीअंट के खिलाफ महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है-डॉ एम डी सिंह