विश्व मात्स्यिकी दिवस के सफल आयोजन की रूपरेखा निर्धारित करने हेतु बैठक सम्पन्न

विश्व मात्स्यिकी दिवस के सफल आयोजन की रूपरेखा निर्धारित करने हेतु बैठक सम्पन्न
अधिक से अधिक मत्स्य कृषकों को किसान क्रेडिट कार्ड से आच्छादित किये जाने हेतु पंजीयन कराये जाने के निर्देश
कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों, सफल मत्स्य पालको एवं उद्यमियों की सहभागिता कराते हुये मत्स्य उत्पादन को बढ़ाये जाने हेतु नवीनतम तकनीकी जानकारी दी जायेगी
लखनऊः 02 नवम्बर, 2020

प्रदेश में विभिन्न स्तरों यथा राज्य स्तर, मण्डल स्तर एवं जनपद स्तर पर आगामी 21 नवम्बर, 2020 को विश्व मात्स्यिकी दिवस के सफल आयोजन की रूपरेखा निर्धारित करने हेतु आज मत्स्य निदेशालय में निदेशक मत्स्य श्री एस0के0 सिंह, द्वारा वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से समस्त विभागीय मण्डलीय उप निदेशकों के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।
 बैठक में मात्स्यिकी दिवस के आयोजन हेतु निदेशक मत्स्य द्वारा दिये गये दिशा-निर्देशों  में मुख्य रूप से विभाग में संचालित प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना, किसान के्रडिट कार्ड, मछुआ दुर्घटना बीमा योजना, गंगा एवं उनकी सहायक नदियों में रिवर रैचिंग तथा मत्स्य पालकों को नवीनतम तकनीक की जानकारी गोष्ठियों के माध्यम से दिये जाने हेतु निर्देशित किया गया। उन्होंने कहा कि आयोजित की जाने वाली गोष्ठियों में कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिकों/कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों तथा सफल मत्स्य पालको एवं उद्यमियों की सहभागिता कराते हुये मत्स्य उत्पादन को बढ़ाये जाने हेतु नवीनतम तकनीकी जानकारी दी जाय।
बैठक में श्री सिंह द्वारा विश्व मात्स्यिकी दिवस पर विभागीय पोर्टल के माध्यम से अधिक से अधिक मत्स्य कृषकों को किसान क्रेडिट कार्ड से आच्छादित किये जाने हेतु पंजीयन कराये जाने के निर्देश दिये गये। गंगा एवं इसकी सहायक नदियों में रिवर रैचिंग हेतु विशेष कर जनपद वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर, मेरठ, बिजनौर, बदायूं, आगरा, अयोध्या एवं विंध्याचंल में कराये जाने के लिये विस्तृत दिशा-निर्देश वर्चुअल बैठक में दिये गये।
     इस अवसर पर बैठक में संयुक्त निदेशक मत्स्य, एस0के0 शुक्ला, प्रबन्ध निदेशक, प्रादेशिक मत्स्य सहकारी संघ, अंजना वर्मा, उप निदेशक मत्स्य (मु0), डा0 हरेन्द्र प्रसाद एवं मुख्यालय के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर