गंगा के तटवर्ती क्षेत्रों में औद्यानिक विकास हेतु 144.30 करोड़ रुपये की कार्ययोजना स्वीकृत

लखनऊः 28 दिसम्बर, 2020 नमामि गंगे परियोजना के तहत उद्यान विभाग द्वारा गंगा के तटवर्ती क्षेत्रों में औद्यानिक विकास की योजना वित्तीय वर्ष 2020-21 से 2025-26 तक की कार्ययोजना बनाई गयी है, जिसके तहत कुल धनराशि रु0 144.30 करोड़ की कार्ययोजना स्वीकृत की गयी है। वर्ष 2020-21 हेतु कुल धनराशि रु0 10.625 करोड़ उपलब्ध कराने हेतु कृषि निेदेशक, उ0प्र0 लखनऊ को प्रेषित की गयी है। नमामि गंगे विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार गंगा/यमुना नदी के तटवर्ती क्षेत्रों में प्राथमिकता के आधार पर मनरेगा के अंतर्गत मुख्यमंत्री फलोद्यान योजना में फलदार पौधे लगभग 2000 हे0 क्षेत्रफल में रोपण का कार्यक्रम प्रस्तावित है, जिसमें स्थानीय उपयुक्तता के आधार पर आम, अमरूद, नींबू, अनार, शरीफा, आंवला, कटहल, बेर, बेल, सहजन आदि का रोपण कराया जायेगा। योजना में लाभार्थियों के लिए तीन वर्ष तक रख-रखाव की व्यवस्था की गयी है। मनरेगा के अन्तर्गत अब तक रोपित क्षेत्रफल 1151.76 हे0 है, जिसके सापेक्ष कुल व्यय रु0 312.602 लाख है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या