अखिलेश बताएं कि उन्हें आजम खान का नाम सुनकर गुस्सा क्यों आता है- शाहनवाज आलम

लखनऊ।


अल्पसंख्यक कांग्रेस प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज आलम ने सपा प्रमुख पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को एक पत्रकार द्वारा आजम खान के मुद्दे पर सपा की खामोशी पर सवाल पूछने पर पत्रकार को अपमानित करने की कड़ी निंदा की है।

शाहनवाज आलम ने जारी बयान में कहा कि अखिलेश यादव के इस करतूत से उनका मुस्लिम विरोधी चेहरा एक बार फिर उजागर हो गया है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव की मुस्लिम विरोधी मानसिकता के बारे में खुद उनके पिता मुलायम सिंह कई बार सार्वजनिक तौर पर बता चुके हैं लेकिन इस बार अखिलेश यादव ने कैमरा के सामने अपने पिता की बात को सही साबित कर दिया है।

शाहनवाज आलम ने कहा कि आजम खान ने अपनी पूरी जिंदगी समाजवादी पार्टी को दान कर दी थी सिर्फ मुसलमान होने के कारण उनके पूरे परिवार सहित जेल में होने के बावजूद सपा न सिर्फ चुप है बल्कि चुप्पी पर सवाल पूछने वाले पत्रकारों को खुद अखिलेश यादव ही अपमानित कर रहे हैं।

शाहनवाज आलम ने कहा कि अखिलेश यादव शायद अजाम खान को भूल गए हैं या भूल जाना चाहते हैं। इसीलिए उपचुनाव में सपा द्वारा जारी स्टार प्रचारकों की सूची में भी आजम खान का नाम था। जो साबित करता है कि अखिलेश यादव जी अब भूल गए हैं कि आजम खान जेल में हैं।

उन्होंने कहा कि पिछले लंबे समय से समाजवादी पार्टी के पोस्टरों और बैनरों से आजम खान की तस्वीर का गायब होना भी साबित करता है कि सपा को अब आजम खान की जरूरत नहीं है।

उन्होंने पूछा कि अखिलेश यादव को बताना चाहिए कि उन्हें आजम खान का नाम सुनकर गुस्सा क्यों आता है। आजम खान को मुसलमान होने के कारण भाजपा तो सजा दे ही रही है अखिलेश भी उन्हें क्यों मुसलमान होने की सजा दे रहे हैं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?