अपर नगर मजिस्ट्रेट पल्लवी मिश्रा व बीएसए दिनेश शर्मा की मौजूदगी में अक्षय पात्र ने किया हैप्पीनेस कीट का वितरण

लखनऊ। अक्षय पात्र ने परनोड रिकार्ड इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से मकदूमपुर प्राइमरी विद्यालय के बच्चों में हैप्पीनेस कीट का वितरण किया। अपर नगर मजिस्ट्रेट पल्लवी मिश्रा व बीएसए दिनेश शर्मा के हाथों प्रोटीन व कार्बोहाइड्रेट से युक्त इस संतुलित किट का वितरण किया गया। इस अवसर पर मकदूमपुर प्राइमरी विद्यालय के प्रधानाचार्य व अध्यापकों के साथ स्कूल के बच्चों व उनके अभिभावक मौजूद थे। परनोड रिकार्ड इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से इस सप्ताह 25 दिसंबर को चिनहट छोटा भरवारा स्थित गरेडियन पुरवा के प्राथमिक विद्यालय के बच्चों में भी हैप्पीनेस किट का वितरण किया गया था। सचिव बेसिक शिक्षा संजय गोयल, परनोद रिकार्ड इंडिया के नवीन जी व अक्षयपात्र के स्वामी अनंत दास जी के हाथों स्कूल के बच्चों मे प्रोटीन व कार्बोहाइड्रेट से युक्त इस संतुलित किट का वितरण किया गया था। अक्षयपात्र द्वारा बच्चों में करीब दस हजार परनोड रिकार्ड इंडिया फाउंडेशन हैप्पीनेस किट का वितरण किया जाएगा। अक्षयपात्र फाउंडेशन लगातार कुछ माह से प्राइमरी विद्यालयों के बच्चों में राशन किट का वितरण कर रहा है। प्रदेश सरकार के मंत्री चैधरी उदयभान सिंह, महेश गुप्ता, बलदेव औलख के साथ लखनऊ मोहनलालगंज के विधायक अम्बरीष पुष्कर द्वारा भी बच्चों में राशन किट का वितरण किया गया है। गत माह निशात गंज स्थित बचपन डे केयर स्कूल में मंत्री बलदेव औलख ने बच्चों तथा उनके परिजनों में किट का वितरण किया था। इससे पूर्व कल सरोजनी नगर के पहाड़पुर प्राइमरी विद्यालय में मंत्री चैधरी उदयभान सिंह ने बच्चों को राशन किट दिया। इन सभी किट में राशन व साबुन के साथ कापी, किताब, पेंसिल, बिस्किट, टूथ ब्रश व पेस्ट सहित 18 समान दिया गया। लखनऊ के जरूरतमंदों में अक्षयपात्र फाउंडेशन के राशन किट का वितरण लगातार जारी है। लॉकडाउन समाप्त होने के बाद भी अक्षयपात्र फाउंडेशन द्वारा लखनऊ के ग्राम परवर पश्चिम, शिवगुलाम खेड़ा, मेड़ई खेड़ा, मवैया, दुर्गा खेड़ा, गढ़ी आदि सैकड़ो गांव में जरूरतमंद लोगों को राशन किट दिया जा रहा है। अक्षयपात्र फाउंडेशन द्वारा राजधानी लखनऊ तथा वाराणसी के साथ मथुरा, अयोध्या, प्रयागराज, कानपुर, कन्नौज, बहराइच, गाज़ीपुर व सीतापुर के नैमिषारण्य सहित कई जिलों में राशन किट बांटा जा चुका है। कोरोना संकट काल में अक्षयपात्र फाउण्डेशन के अध्यक्ष मधु पंडित दास व उपाध्यक्ष चंचलापति प्रभु के मार्गदर्शन में यह कार्यक्रम प्रारम्भ किया गया है। अक्षयपात्र संस्था की कोशिश रहती है कि देश मे कही कोई भूखा न रहे। लॉकडाउन के समय मे अक्षयपात्र फाउंडेशन केवल उत्तर प्रदेश ही नहीं उत्तराखंड, आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, दादरा और नगर हवेली, दिल्ली, गुजरात, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना व त्रिपुरा आदि में भी जरूरतमंदों को भोजन तथा राशन देने का काम किया। लॉकडाउन से प्रभावित लोगों की मदद के लिए सरकार के राहत प्रयासों का समर्थन करते हुए इस फाउंडेशन द्वारा देश भर के विभिन्न स्थानों में दिहाड़ी मजदूर, औद्योगिक श्रमिक आदि बेघर लोगों को भोजन तथा राशन किट दिया गया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या