विश्व मानवाधिकार दिवस आदिवासी चौपाल

गरीब एवं सहरिया आदिवासी परिवारों की होगी रक्षा: जिलाधिकारी * विकास की योजनाओं से लाभान्वित करने के दिये निर्देश * आदिवासी गाँव पहाडीखुर्द में एक सप्ताह के अन्दर लगेंगीं सोलर लाइट ललितपुर। विश्वमानवाधिकार दिवस के अवसर परविकास खण्ड मड़ावरा के ग्राम पहाडीखुर्द में आदिवासी चौपाल का आयोजन बुंदेलखंड सेवा संस्थान द्वारा जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार के मुख्य आतिथ्य एवं मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित की गई। आदिवासी चौपाल में जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार ने कहा कि आदिवासी गाँव पहाड़ीखुर्द में एक सप्ताह के अन्दर सोलर लाइट लगाई जाएगी। कहा कि अर्जुन सहरिया को सस्ते राशन वितरण की दूकान पुनः दी जाएगी। मनरेगा में सहरिया बस्ती के 59 परिवारों को 50 - 50 दिन का रोजगार दिया जाएगा । राशन कार्ड बनाये जाएंगे । विधवा पेंशन एवं वृद्ध महिला पुरुषों को पेंशन दी जाएगी। विद्युत विभाग को भी बिजली आपूर्ति इस क्षेत्र में सही ढंग से करने के सख्त आदेश दिए। आवास शौचालय निर्माण हेतु आदेश आदिवासी समुदाय बस्ती में प्रमुखता से दिया। बता दें कि पिछले 4 वर्ष तक बस्ती में कोई भी काम न किये जाने पर जिलाधिकारी संबंधित विभाग के अधिकारियों पर काफी नाराजगी प्रकट किया। बुन्देलखण्ड सेवा संस्थान के मंत्री बासुदेव सिंह ने कहा कि यह मड़ावरा क्षेत्र बहुत पिछड़ा है सहरिया आदिवासी समाज विकास की मुख्य धारा से अब तक जुड़ नही पाया। अपनी समस्या भी अधिकारियों से खुलकर निडर होकर नहीं बोल पाते है। इस सहरिया समुदाय के विकास के लिए बहुत ही संवेदनशीलता के साथ सरकारी सेवा प्रदाताओं को काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि डीएम साहब ने आज गरीबो की रक्षा का वचन दिया है जिससे आदिवासी समुदाय आज राहत महसूस कर रहा है। कहा कि अर्जुन सहरिया ने नीमखेड़ा, पहाड़ी, दिदोनिया परसाटा, गोराखुर्द गांवो की समस्याओं को विस्तार से जिलाधिकारी महोदय के सामने रखा। आदिवासी चौपाल में मुख्य विकास अधिकारी विकास कार्यों का सत्यापन किया। मनरेगा योजना से पहाड़ीखुर्द में कोई काम न करने पर ब्लाक कर्मियों को जमकर फटकार लगाई। विद्यालय में स्वेटर वितरण न किये जाने पर नराजगी जताते हुए शिक्षा विभाग को स्वेटर वितरण के निर्देश दिये गए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने स्वास्थ्य सेवाओं संबंधित जानकारी देते हुए वर्तमान में गाँव में स्वास्थ्य सेवाओं के क्या क्या कार्य किये गए हैं इसकी जानकारी ली। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने भी तम्बाकू मुक्त व विकलांग शिविर लगाने की जानकारी दी। आपूर्ति विभाग कृषि विभाग स्वस्थ्य विभाग के अधिकारियों ने योजनाओं की जानकारी दी। आदिवासी चौपाल में मुख्य विकास अधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डीपीआरओ, डीडीए, उपजिलाधिकारी मड़ावरा, पूर्व विधायक श्री देवेन्द्र सिह,ग्राम प्रधान, चिकित्सा अधीक्षक मड़ावरा डॉक्टर अशोक कुमार, खण्ड शिक्षा अधिकारी रामगोपाल वर्मा, थानाध्यक्ष मदनपुर, विवेक, आकाश, महेश, अभिषेक, अरविन्द चाइल्ड लाइन टीम सहित संबंधित विभागों के अधिकारी एवं ग्रामवासी उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या