ग्राम साढूमल में मनाई गई संविधान निर्माता भारत रत्न डॉ. भीमराव अंबेडकर की 65 वीं पुण्यतिथि

ललितपुर।


ग्राम साढूमल में संविधान निर्माता भारत रत्न डॉ. भीमराव अंबेडकर की 65 वीं पुण्यतिथि भारतीय जनता पार्टी के मण्डल अध्यक्ष महरौनी आसुतोष सिंह सेंगर की अध्यक्षता में मनाई गई। कार्यक्रम की शुरूआत भारतीय जनता पार्टी के मण्डल अध्यक्ष महरौनी आसुतोष सिंह सेंगर ने बाबा साहब के चित्र पर माल्यापर्ण एवं दीप प्रज्वलित कर किया।


 


कार्यक्रम में भाजपा मंडल अध्यक्ष आशुतोष सिंह सेंगर ने कहा कि 


भारतीय संविधान के रचयिता और समाज सुधारक डॉ. भीम राव अंबेडकर की आज पुण्यतिथि है। राष्ट्र आज बाबा साहब की पुण्यतिथि मना रहा है। 6 दिसंबर, 1956 को बाबा साहब का निधन हुआ था। उनका जन्म 14, अप्रैल 1891 को मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव महू में हुआ था। संविधान निर्माता बाबा साहब की पुण्यतिथि पर रविवार को धनबाद शहर समेत विभिन्न स्थानों पर कार्यक्रम आयोजित कर श्रद्धांजलि दी गई। 


 


बाबा साहब का पूरा जीवन देश सेवा को समर्पित था। उन्होंने अपना पूरा जीवन दलित वर्ग को समाज में समानता दिलाने के लिए संघर्ष में लगा दिया। उनके विचारों ने लाखों लोगों को प्रेरित किया। उनका स्पष्ट कहना था कि शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करो। यह स्वतंत्रता हमें अपनी सामाजिक व्यवस्था को सुधारने के लिए मिली है। 


 


कार्यक्रम में प्रमुख रूप से आशुतोष सिंह सेंगर मंडल अध्यक्ष भाजपा महरौनी, सुखदयाल अहिरवार जिलाध्यक्ष भाजपा अनुसूचित मोर्चा भाजपा ललितपुर, नशीर अहमद खान ग्राम प्रधान प्रतिनिधि साढूमल, कुलभूषण वर्मा साढूमल सहमीडिया प्रभारी भाजपा महरौनी, अमित श्रीवास्तव सेक्टर अध्यक्ष साढूमल, गोरेलाल बाबा बूथ अध्यक्ष साढूमल, कोमल कुशवाहा बूथ अध्यक्ष साढूमल, आनन्द जैन बूथ अध्यक्ष साढूमल, राजन राजपूत बूथ अध्यक्ष साढूमल, जाहर सिंह राजपूत, तुलसी नामदेव, सीताराम विश्वकर्मा, लक्ष्मण अहिरवार, मलखान रजक, कमलेश कुशवाहा, राजाबाबू कुशवाहा, राजू अहिरवार आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे । कार्यक्रम का संचालन एवं आभार व्यक्त कुलभूषण वर्मा साढूमल ने किया।



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा