जानिये सरकार द्वारा कन्याओं की मदद के लिए चलाई जा रही योजनाएं, पात्रता और आवेदन का तरीका


-------------------------------
जानिये सरकार द्वारा कन्याओं की मदद के लिए चलाई जा रही योजनाएं, पात्रता और आवेदन का तरीका


 देश में सरकारें महिला सशक्तीकरण बढ़ने और देश में महिलाओं की स्थिति में सुधार लाने के लिए लड़कियों ये लिए कई प्रकार की सरकारी योजनाएं शुरू की है। जिससे महिला शिक्षा से लेकर कई तरह से काम आती है। इस खबर में हम आप को आपको 8 सरकारी योजनाए बताने जा रहे है जो विशेष रूप से लड़कियों के लिए शुरू किया गया है। भारत सरकार देश के सभी राज्यों में लड़कियों के बेहतर Developlemt के लिए लगातार Work कर रही है, जिसके लिए उन्होंने ये कल्याणकारी (Welfare) योजनाएँ शुरू की है। इन योजनाओं के माध्यम से देश में सभी लड़कियों की स्थिति को सुधारने में मदद मिलेगी, जिसका फायदा सभी लड़कियों को दिया जा रहा है।


सुकन्या समृद्धि योजना


मोदी सरकार ने लड़कियों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना शुरू कि है जिसके तहत लड़की के माता या पिता को हर महीने या फिर हर साल एक नियमित राशि जमा करके इस योजना का लाभ उठा सकते है।


आप को बता दें कि इस योजना को भारत सरकार द्वारा 22 जनवरी 2015 में शुरू किया गया था। जिसका उद्देश्य लड़कियों की शिक्षा और उसकी शादी के लिए उसकी सहायता करना है। इस सरकारी योजना के तहत लड़की के माता या पिता को हर महीने या फिर हर साल एक नियमित राशि जमा करनी होगी और लड़की के 21 वर्ष पुरे होने के बाद ये पैसे लड़की को मिल जाते है जिससे वो लड़की उस पैसे को आपकी शादी या पढ़ाई पर खर्च कर सकती है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए लड़की के माता या पिता को अपने लड़की का सुकन्या समृद्धि खाता अपने अपने सबसे निकटतम डाक घर में खुलवाना होगा। इस योजना के अनुसार लड़की की उम्र 10 वर्ष से काम होनी चाहिए। इस योजना के तहर आप कम से कम 250 रूपए निवेश कर इस योजना में खाता खुलवा सकते हो जो 21 वर्ष तक सक्रिय रहेगा।


योजना के लाभ


इस योजना के तहत सरकार आपको इस खाते पर 9.1% का वार्षिक दर से ब्याज देगी।
इस योजना के तहत आपको खाता खोलने के लिए कम से कम 250 रूपए का निवेश करना होगा।
लड़की के परिवार वालो को ये राशि केवल 14 की उम्र तक जमा करनी होगी। जिसके बाद लड़की की उम्र
21 वर्ष होने के बाद ये राशि उसके परिवार वालो की प्रदान की जाएगी।
इस योजना के अनुसार लड़की की उम्र 18 वर्ष की होने के बाद लड़की आधे पैसे को निकल सकती है।
और इस खाते पर आपको किसी भी तरह का इनकम टैक्स नहीं देना होगा।


इस योजना के लिए पात्रता मापदंड


इस योजना के लिए लड़की की उम्र 10 वर्ष से काम होनी चाहिए।
खाता खोलने के लिए कम से कम 250 रूपए जमा कराने होंगे।
इसके अलावा आप जयादा से जयादा 1,50,000 रुपए जमा करा सकते हो।
ये राशि आपको केवल 14 वर्ष तक जमा करानी होगी।


केवल एक लड़की के लिए CBSE मेरिट स्कॉलरशिप योजना


सरकार देश में लड़कियों को मिल रही शिक्षा को बेहतर बनाने के लिए छात्रवृति जैसे योजनाए शुरू करती है। इसलिए सरकार सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) के द्वारा छात्रवृति योजना शुरू की गई है। जिसकी मदद के लड़कियों की शिक्षा में सुधर लाया जा सकता है। इस योजना की अंतर्गत स्कूल और ट्यूशन फीस में कुछ छूट दी जाएगी, छात्रवृति दी जाएगी जिससे अकेली लड़की को बढ़ावा दिया जायेगा। लकिन इस योजना का लाभ केवल सरकारी स्कूल की छात्राये उठा सकती है।


योजना के लाभ


इस योजना के अंतर्गत लाभ के तौर पर लड़कियों के 500 रूपए हर महीने स्कालरशिप प्रदान की जाएगी।


पात्रता मापदंड


जिस परिवार में केवल एक ही लड़की हो केवल उन्ही हो इस योजना का लाभ मिल सकता है।


*केवल सरकारी स्कूल की लड़कियों को इस योजना का लाभ मिल सकता है।
ये योजना केवल उन्हीं लड़कियों के लिए है जिनके 10 वी में 60% या 6.2 CGPA आये हो।
इस योजना के लिए लड़की की स्कूल फीस 1500 रूपए से जयादा नहीं होनी चाहिए।


बालिका समृद्धि योजना


इस योजना के तहत लड़की के जनम लेने पर 500 रूपए दिए जायेंगे और समय समय की लड़की को सहायता मिलती रहेगी जब तक लड़की 10 वी में नहीं आ जाती। इस योजना के तहत लड़की के जन्म से लेकर 10 वी तक 500 या 1000 रूपए मिलेंगे। लिस्ट आप निचे देख सकते है।


कक्षा छात्रवृत्ति के पैसे


कक्षा 1 से 3 तक 300 रूपये / वार्षिक
कक्षा 4 में 500 रूपये / प्रति वर्ष
कक्षा 5 में 600 रूपये / प्रतिवर्ष
कक्षा 6 और 7 में 700 रूपये / वार्षिक
कक्षा 8 में 800 रूपये / प्रतिवर्ष
कक्षा 9 और 10 में 1000 रूपये / प्रतिवर्ष


पात्रता मापदंड


इस योजना का लाभ केवल वो लड़कियां उठा सकती है जिनका जनम 15 अगस्त 1997 के बाद हुआ है।
इस योजना का फायदा केवल गरीब परिवार की बच्चियों को मिलेगा।
किसी एक परिवार में जयादा से जयादा 2 लड़किया इस योजना का फायदा उठा साथी है।


मुख्यमंत्री राजश्री योजना


राजस्थान की सरकार ने अपने राज्य में लड़कियों की शिक्षा और और उनकी हत्या पर रोक लगाने के लिए मुख्यमंत्री राजश्री योजना शुरू की है। इस सरकारी योजना के अनुसार राज्य की सरकार लड़की को जनम से लेकर उस लड़की की समय समय पर मदद करेगी। इस योजना की शुरुआत 8 मार्च 2016 के राजस्थान मुख्या मंत्री द्वारा की गए थी।


योजना के लाभ


इस योजना के तहत लड़की के जनम होने पर लड़की को 2,500 रूपए दिए जायेंगे। ये पैसे मेडिकल सेंटर द्वारा प्रदान किये जायेंगे।
दूसरी बार जब लड़की 1 वर्ष की हो जाएगी तब उसे 2,500 रूपए प्रदान किये जायेंगे जिससे उसके सरे टीकाकरण हो सके।
और इसके बाद जब लड़की पहली कक्षा में दाखिला लेगी तब उसे तब उसे प्रवेश लेने पर 4,000 रूपए प्रदान किये जायेंगे।
इसके अलावा लड़की को समय समय पर 5,000 रुपए की सहायता प्रदान की जाएगी।
यदि लड़की 11 वी व 12 वी में पढ़ती है तो उसे 6,000 रूपए से लेकर 11,000 रूपए की सहायता प्रदान की जाएगी।
यदि लड़की 12th पास कर लेती है तो उसे 25,000 रूपए प्रदान किये जायेंगे।


पात्रता मापदंड


ये योजना केवल लड़कियों के लिए है।
इस योजना के लिए लड़की का जन्म राजस्थान में हुआ होना चाहिए।
इस योजना की लाभ वो ही लड़किया उठा सकती है जिनका जनम 1 जून 2016 के बाद हुआ हो।


मुख्यमंत्री कन्या सुरक्षा योजना


इस योजना को बिहार की सरकार द्वारा शुरू किया गया था। ये योजना लड़कियों की शिक्षा में सुधर लाने के लिए शुरू की गए थी। ये योजना केवल उनके लिए है जो (BPL) गरीबी रेखा से निचे की श्रेणी में आती है। इस योजना के तहत लड़की को उसकी शिक्षा के लिए 2000 रूपए की सहायता प्रदान की जाएगी।


योजना के लाभ


ये योजना लड़कियों की शिक्षा में सुधर लाने के लिए शुरू की गए थी। इस योजना के तहत लड़की को उसकी शिक्षा के लिए 2000 रूपए की सहायता प्रदान की जाएगी। जिसे सरकार UTI Fund की Child Care Balance प्लान में Invest करेगी।


पात्रता मापदंड


ये केवल लड़कियों के लिए है।
इस योजना के लिए लड़की का जन्म 22 नवंबर 2007 के बाद का होना चाहिए।
ये योजना केवल उनके लिए है जो (BPL) गरीबी रेखा से निचे की श्रेणी में आते है।
योजना के आवेदन के समय लड़की की आयु 3 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
योजना के आवेदन के लिए लड़की के जन्म का पंजीकरण 1 साल ने अंदर होना चाहिए।
इस योजना का लाभ केवल 1 परिवार की 2 ही लड़किया उठा सकती है।


मुख्यमंत्री लाडली योजना


इस योजना को झारखण्ड की सरकार द्वारा शुरू किया गया था। ये योजना लड़कियों के भविस्य को बहेतर बनाए के लिए शुरू की गए थी। इस सरकारी योजना के अनुसार राज्य की लड़कियों को सशक्त बनने के लिए उसके 21 वर्ष का होने के बाद उसे 1,00,000 रूपए की राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के अनुसार ये 1,00,000 रूपए की राशि 4 चरणों के दी जाएगी।


योजना के लाभ


इस योजना का लाभ लेने के लिए लड़की का पोस्ट ऑफिस में खाता होना चहिये जिसमे सरकार 5 साल की अवधि के लिए हर साल 6000 रूपए आपके Account में जमा करेगी जिसका फायदा लड़की को 21 वर्ष की आयु पूरा होने के बाद दिया जायेगा।
इस योजना के तहत लड़की की आयु 21 वर्ष हो जाती है तो उसे 1,00,000 रूपए की राशि दी जाएगी जब वो विवाहित न हो।
इसके अलावा सरकार लड़की को कक्षा 6th में 2000 रुपए, 9th में 4000 रूपए, 11th में 6,500 रूपए की वित्तीय सहायता भी दी जाएगी।
यदि लड़की उच्च माध्यमिक कक्षाओं में प्रवेश प्राप्त करती है तो उसे 200 रूपए हर महीने प्रदान किये जायेंगे।


पात्रता मापदंड


ये केवल लड़कियों के लिए है।
इस योजना के लिए लड़की का जन्म 1 अप्रैल 2008 के बाद का होना चाहिए।
इस योजना का लाभ केवल 1 परिवार की 2 ही लड़किया ले सकती है।
लड़की की आयु 21 वर्ष होने पर वह अविवाहित होनी चाहिए।
लड़की के जन्म का पंजीकरण 1 साल ने अंदर होना चाहिए।


माझी कन्या भाग्यश्री योजना


इस योजना को महाराष्ट्र की सरकार द्वारा 2016 में शुरू किया गया था। लड़कियों की शिक्षा में सुधर लाने के लिए माझी कन्या भाग्यश्री सरकारी योजना शुरू की गए थी। इस सरकारी योजना को केवल लड़कियों के लिए शुरू किया गया है। इस योजना के तहत लड़की की आयु 18 वर्ष की होने पर उसे 1,00,000 रूपए दिए जायेंगे। इस योजना के अनुसार ये राशि 4 चरणों के दी जाएगी।


योजना के लाभ


योजना के अनुसार लड़की के जन्म से लेकर उसके 5 वर्ष के होने तक 500 रूपए हर महीने लड़की की माता को दिए जायेंगे।
इस 5 वर्षों में में कुल 30,000 रूपए की राशि लड़की की माँ को दी जाएगी।
इस योजना के तहत लड़की की आयु 18 वर्ष की होने पर उसे 1,00,000 रूपए दिए जायेंगे।


पात्रता मापदंड


ये केवल लड़कियों के लिए है।


नंदा देवी कन्या योजना


इस योजना को उत्तरखंड की सरकार द्वारा शुरू किया गया था। लड़कियों की शिक्षा के बढ़ावा देने के लिए नंदा देवी कन्या शुरू की गए थी। इस योजना के तहत लड़कियों की शिक्षा को प्रोत्साहन देने के लिए उनको सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत जब लड़की 18 वर्ष की हो जाएगी या 10th पास कर लेगी तो सरकार उसे 15,000 रूपए इस राशि प्रदान करेगी।


योजना के लाभ


इस योजना के तहत लड़की के जनम होने पर लड़की को 5,000 रूपए दिए जायेंगे।
जब लड़की 18 वर्ष की हो जाएगी तो सरकार उसे 15,000 रूपए इस राशि प्रदान करेगी।


पात्रता मापदंड


ये केवल लड़कियों के लिए है।
इस योजना के लिए लड़की का जन्म उत्तरखंड में हुआ होना चाहिए।
योजना के लिए लड़की के परिवार की वार्षिक आय ३६००० प्रति माह (ग्रामीण क्षेत्र के लिए) और 42000
प्रति माह (शहरी क्षेत्र के लिए) से अधिक नहीं होनी चाहिए।


आवश्यक दस्तावेज़


बीपीएल प्रमाण पत्र, लड़की का जन्म प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाणपत्र और आधार कार्ड ध्यान रहें कि उपर बताईं गई विभिन्न राज्यों और केन्द्र सरकार के द्वारा संचालित की जाती है। ऐसे में आप को अधिक जानकारी के लिए इन वेबसाइट पर जाकर देख सकते है। जो योजना से संबधित पोर्टल हैं।


ये जनकारी मात्र है इन सभी योजनाओ की विस्तृत जनकारी के लिए संबंधित सरकार के नियम और दिशा निर्देशो को ही अधिकृत माना जाए 


 जागरूकता के लिए शेयर अवश्य करें


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या