किसान आंदोलन के समर्थन में प्रदेश भर में खेत मजदूर संगठनों ने धरना प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा

लखनऊ । 5 दिसम्बर। किसान आंदोलन के समर्थन में प्रदेश भर
में खेत मजदूर संगठनों ने धरना प्रदर्शन कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा।
   8 दिसंबर भारत बंद में शामिल होंगे खेत मजदूर यूनियन ।
    उत्तर प्रदेश खेत मजदूर यूनियन 10 विधान सभा मार्ग लखनऊ 22600 1 व  22
कैसरबाग लखनऊ के निर्देश पर प्रदेश भर में हजारों कार्यकर्ताओं ने देश भर में
व दिल्ली  सीमा पर हो रहे किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए धरना प्रदर्शन किए
और अडानी अंबानी तथा मोदी सरकार के पुतला दहन किए।  किसान विरोधी तीनों काले
कानून रद्द करने , बिजली कानून 2020 वापस लेने ,सरकारी क्षेत्रों के निजीकरण
पर रोक लगाने ,आंदोलनरत किसान नेताओं के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस लेने आंदोलन
में शामिल मृतक किसान परिवारों को 50 लाख रुपये  मुआवजा देने , किसान
आंदोलनकारियों  पर लाठीचार्ज आंसू गैस से हमला करने व कराने वाले  प्रशासनिक
अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने आदि मांगों को ज्ञापन में शामिल किया
गया है। प्रदेश के देवरिया मिर्जापुर बस्ती जौनपुर सुल्तानपुर इलाहाबाद कासगंज
बदायूं मुजफ्फरनगर गोंडा गोरखपुर गाजीपुर हाथरस बलिया कुशीनगर फैजाबाद
अंबेडकरनगर श्रावस्ती बहराइच फतेहपुर चंदौली वाराणसी मऊ रायबरेली लखनऊ आदि
जिलों में धरना प्रदर्शन कर सैकड़ों जगह ज्ञापन दिए गए। लखनऊ में दोनों खेत
मजदूर यूनियन के महासचिव बृजलाल भारतीय व फूलचंद यादव ने सिटी मजिस्ट्रेट को
राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा । साथ में जिला के साथी एस के पांडे भी रहे।
पूरब गांव में किसान विरोधी काले कानूनों की प्रतियां जलाई गई और सभा की गई ।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या