किसान फसल अवशेष न जलाएं, बल्कि इन कृषि यंत्रों का उपयोग कर अपनी आय में वृद्धि लाएं - सूर्य प्रताप शाही

लखनऊ: 02 दिसम्बर, 2020
आचार्य नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय एवं न्यू हॉलैंड ट्रैक्टर्स कंपनी के मध्य एमओयू हस्ताक्षरित किया गया। इसके तहत न्यू हॉलैंड ट्रैक्टर्स कंपनी कृषि विश्वविद्यालय को ट्रैक्टर सहित 21 लाख रुपये के कृषि यंत्र (मलचर, रेक और बेलर) निःशुल्क उपलब्ध कराएगी। उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री श्री सूर्य प्रताप शाही ने यह जानकारी देते हुए कहा कि इस एमओयू से पर्यावरण को संरक्षित करने और फसल अवशेष का प्रबंधन करके उसको आय में परिवर्तित करने की दिशा में मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश के समस्त 05 कृषि विश्वविद्यालयों के साथ इस प्रकार एमओयू किया जाएगा।
कृषि मंत्री ने बताया कि विश्वविद्यालय के आस पास के गांव के किसानों को बाजार दर से 40ः से 50ः कम दर पर यह कृषि यंत्र उपलब्ध कराए जाएंगे। ये यंत्र किसान भाइयों के खेत पर फसल अवशेष का प्रबंधन कर, उनकी आय में वृद्धि करने में भी सहायक होंगे। श्री शाही ने प्रदेश के समस्त किसानों से अपील किया है कि किसान फसल अवशेष न जलाएं, बल्कि इन कृषि यंत्रों का उपयोग कर अपनी आय में वृद्धि लाएं।
कृषि मंत्री ने कहा कि इन यंत्रों से कृषि इंजीनियरिंग के छात्रों को नये और बड़े कृषि यंत्रों की जानकारी प्राप्त होगी। उन्होंने कंपनी के यूपी और यूके के बिजनेस हेड श्री गौतम को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि उनके इस अभिनव प्रयास से कृषि विश्विद्यालयों को किसानों की आय में वृद्धि के संकल्प को साकार करने में भी मदद मिलेगी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या