मुख्यमंत्री की मुम्बई में डिफेन्स इण्डस्ट्रियल काॅरीडोर से जुड़े निवेशकों तथा उद्यमियों से वार्ता

लखनऊ/मुम्बई: 02 दिसम्बर, 2020


    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश डिफेन्स इण्डस्ट्रियल काॅरीडोर में निवेश की व्यापक सम्भावनाएं हैं। लखनऊ में सफलतापूर्वक आयोजित डिफेन्स एक्सपो-2020 से इन सम्भावनाओं का विस्तार हुआ है। निवेशकों ने इस सम्बन्ध में जो उत्साह दिखाया है, उससे प्रदेश में सभी का हौसला बढ़ा है।
    मुख्यमंत्री जी ने यह विचार आज मुम्बई में डिफेन्स इण्डस्ट्रियल काॅरीडोर से जुड़े निवेशकों तथा उद्यमियों से वार्ता के दौरान व्यक्त किए। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सभी के सम्मिलित प्रयासों से रक्षा उत्पादों के क्षेत्र में भारत शीघ्र ही आत्मनिर्भर होने के साथ-साथ निर्यातक देश भी बनेगा। यह प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ के सपने को साकार करने जैसा होगा।
     मुख्यमंत्री जी ने कहा कि डिफेन्स काॅरीडोर के तहत 06 नोड-झांसी, चित्रकूट, अलीगढ़, आगरा, कानपुर और लखनऊ विकसित किए जा रहे हैं। प्रत्येक नोड में भूमि की पर्याप्त उपलब्धता है। आने वाले समय में इन सभी नोड्स को एक्सप्रेस-वे के साथ जोड़ा जाएगा। इस क्षेत्र में टेक्नोलाॅजी और नाॅलेज के लिए बेहतर पार्टनर के रूप में आई0आई0टी0, कानपुर, आई0आई0टी0बी0एच0यू0 तथा अन्य संस्थान उपलब्ध हैं।
    मुख्यमंत्री जी से वार्ता के दौरान डिफेन्स उत्पादों से जुड़े उद्यमियों ने कई सुझाव भी प्रस्तुत किए। उन्होंने डिफेन्स काॅरीडोर के निवेशकों के सुझावों का स्वागत करते हुए कहा कि इस काॅरीडोर के लिए शीर्ष तकनीकी स्थानों में शामिल आई0आई0टी0, कानपुर तथा अन्य ऐसी संस्थाओं से समन्वय भी किया जा रहा है। निवेशकों ने मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यांे की सराहना की।
    कार्यक्रम में यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने सभी का स्वागत किया। इन्वेस्ट यू0पी0 के एडिशनल सी0ई0ओ0 श्री मुत्थू कुमार स्वामी ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
    कार्यक्रम में औद्योगिक विकास मंत्री श्री सतीश महाना, एम0एस0एम0ई0 मंत्री श्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, नगर विकास मंत्री श्री आशुतोष टण्डन सहित वरिष्ठ अ


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या