पहलवान गुरूदीन ग्रुप आॅफ कालेज में मनाया गया ‘एनसीसी स्थापना दिवस‘

पहलवान गुरूदीन ग्रुप आॅफ कालेज में मनाया गया ‘एनसीसी स्थापना दिवस‘
* कार्यक्रम में युवाओं के व्यक्तित्व में सुधार लाने, उनमें नेतृत्व के गुण विकसित करने पर दिया गया बल



ललितपुर।
पहलवान गुरूदीन ग्रुप आॅफ कालेज में ‘एनसीसी स्थापना दिवस‘ व महाविद्यालय में डिफेंस एकेडमी के उद्घाटन समारोह का आयोजन किया गया। समारोह का शुभारम्भ मुख्य अतिथि अनिल कुमार मिश्रा (एडीएम), बृजेश कुमार सिंह (आईपीएस) एएसपी ललितपुर, कमानाधिकारी कर्नल सोमवीर दवास, मेजर सूबेदार संतलाल गुज्जर, सूबेदार अंकुश चुरके, अध्यक्ष डाॅ0 पारसनाथ यादव (संस्थापक पहलवान गुरूदीन गु्रप आॅफ काॅलेज पनारी), विशिष्ट अतिथि डाॅ0 पंकज शर्मा (एसो0 प्रो0 एवं विभागाध्यक्ष कैप्टन कम्पनी कमाण्डर एनसीसी ललितपुर), कैप्टन ए0 के0 कौशिक, मेजर सुल्तान सिंह यादव, डाॅ0 सूर्यनाथ यादव (प्रबन्धक पहलवान गुरूदीन गु्रप आॅफ काॅलेज), डाॅ0 कंचनलता यादव (अध्यक्ष पहलवान गुरूदीन गु्रप आॅफ काॅलेज), डाॅ0 पूजा यादव, डाॅ0 सौरव यादव (प्रबन्ध निदेशक), महिला महाविद्यालय प्राचार्या डाॅ0 सूफिया, प्रशिक्षण महाविद्यालय प्राचार्य डाॅ0 महेश कुमार, एनसीसी अधिकारी लेफ्टिनेट डाॅ0 वन्दना याज्ञिक एवं विधि महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ0 मुकेश कुमार यादव ने माँ सरस्वती जी की प्रतिमा के समक्ष द्वीप प्रज्ज्वलन एवं पुष्पार्पण कर किया। मुख्य अतिथि ने कहा कि एनसीसी का महत्व भारतीय सेना में अधिक महत्वपूर्ण है। युद्ध स्तर पर तैयार किये गये सैनिक भारतीय सेना का अभिन्न अंग बनने में एनसीसी का कार्य महत्वपूर्ण है, एनसीसी का लक्ष्य सेना को सहायता प्रदान करना है। गु्रप आॅफ काॅलेज में डिफेंस एकेडमी के उद्घाटन से बुन्देलखण्ड के युवाओं को सशस्त्र सेनाओं में कैरियर बनाने के लिए जरूरी स्किल मिलेगी। ग्रुप आॅफ काॅलेज के संस्थापक डाॅ0 पारसनाथ यादव ने कहा कि युवा देश के विकास के लिए अपना सक्रिय योगदान दें न कि केवल भीड़ का एक हिस्सा बनकर रह जायें। गु्रप आफ काॅलेज में डिफेंस एकेडमी की स्थापना का उद्देश्य युवाओं के व्यक्तित्व में सुधार लाने, उनमें नेतृत्व के गुण विकसित करने एवं उनमें जिम्मेदार नागरिक के गुण और स्वयं सेवा की भावना उत्पन्न करने के साथ-साथ इस क्षेत्र मंे उनके भविष्य का निर्माण भी है। कर्नल सोमवीर दवास ने कहा कि एनसीसी कैडेट्स ने भारतीय सेना की काफी सहायता की है। एनसीसी दिवस उनके शौर्य को बढ़ाने और दर्शाने का कार्य करता है। इस दिवस के अवसर पर एनसीसी के जवानों के प्रति आदर और सम्मान की भावना दर्शानी चाहिए। डिफेंस एकेडमी के माध्यम से युवाओं की क्षमताओं को पहचानना और उसके अनुसार उन्हें अवसर प्रदान कर उन्हें सशक्त बनाना, जिसके माध्यम से विश्व में भारत को उसका सही स्थान दिलाना है। लेफ्टिनेंट डाॅ0 वन्दना याज्ञिक ने कहा अगर आप स्कूल या काॅलेज लाइफ में ही एक सैनिक की तरह साहसिक खेलों के साथ अनुशासन में रहने का पाठ सीखना चाहते हैं तो एनसीसी एक बेहतर माध्यम बन सकता है। जो युवा भारतीय सेना में शामिल होकर देश सेवा को अपना कैरियर बनाना चाहते हैं उनके लिए काॅलेज लाइफ में एनसीसी एक महत्वपूर्ण माध्यम है। महिला महावि़द्यालय प्राचार्या डाॅ0 सूफिया ने कहा कि देश का प्रत्येक नागरिक हमारे देश की प्रगति और विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है यदि हमारे युवा गम्भीरता से देश के विकास के लिए काम करना शुरू करते हैं तो वे राष्ट्र के महत्वपूर्ण तत्व बन सकते हैं, और वे देश की उन्नति और विकास में महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं। लक्ष्मीनारायण विश्वकर्मा ने कहा कि पहलवान गुरूदीन गु्रप आॅफ काॅलेज के ऐतिहासिक निर्णय ‘‘डिफेंस एकेडमी‘‘ की स्थापना ललितपुर में ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण बुन्देलखण्ड के युवाओं के लिए कैरियर निर्माण हेतु मील का पत्थर साबित होगा। संतोष कुमार (डायरेक्टर नवरत्न एकेडमी) ने कहा कि पहलवान गुरूदीन गु्रप आॅफ काॅलेज द्वारा बुन्देलखण्ड क्षेत्र में आज का दिवस इतिहास के पन्नों में स्वर्णिम पन्नों में दर्ज होगा। अजय बरया ने बताया कि महाविद्यालय द्वारा बुन्देलखण्ड के युवाओं को रोजगार के अवसर दिये जा रहे हैं जिनमें शिक्षा के साथ-साथ डिफेंस में भी अपना भविष्य निर्माण कर सकते हैं। सुरेन्द्र नारायण शर्मा ने कहा कि महाविद्यालय निरंतर प्रगति की ओर अग्रसर हो रहा है जिसमें युवाओं के लिए डिफेंस एकेडमी की स्थापना युवाओं के विकास में एक महत्वपूर्ण कदम सिद्ध होगी। पहलवान गुरूदीन गु्रप आॅफ काॅलेज के डायरेक्टर डाॅ0 सौरव यादव ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन प्रो0 रमेशचन्द्र पटेल एवं प्रो0 विभा ताम्रकार ने संयुक्त रूप से किया। समारोह में ग्रुप आॅफ काॅलेज के विभिन्न संकायों के छात्र/छात्राओं ने अपने-अपने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की मंच पर प्रस्तुति दी।


इस अवसर पर जनपद के सभी वरिष्ठ पत्रकार, चीफ ब्यूरो, गंधर्व सिंह लोधी, नेपाल सिंह यादव, राजेश यादव, संजय ताम्रकार, कन्हैया लाल यादव, गौरव यादव, शाश्वत यादव, यादवजे0पी0 यादव, मोहन सैनी, जाहर सिंह दाऊ, कृष्णकांत सोनी, डाॅ0 अलका यादव, प्रो0 नारायणदास, डाॅ0 विनोद कुमार रजक, प्रो0 रत्ना याज्ञिक, प्रो0 प्रीति शुक्ला, प्रो0 पूजा झा, प्रो0 साधना नांगल, प्रो0 विभा ताम्रकार, निशि गुप्ता, प्रो0 सरिता श्रीवास्तव, प्रो0 शुभि जैन, प्रो0 रंजना श्रीवास्तव, पूजा सिंह, प्रो0 प्रकाश नारायण साहू, प्रो0 भूपेन्द्र कुमार, प्रो0 रामलाल रायकवार, प्रो0 सतीश सोनगिरकर , प्रो0 रमाकांत निरंजन, प्रो0 गंगाराम विश्वकर्मा, प्रो0 उत्कर्ष जैन, प्रो0 रामलखन यादव, प्रो0 इलयास अली, प्रो0 जुनैद रजा, प्रो0 विशाल कनौजिया, प्रो0 रिफा परवीन, प्रो0 ओमप्रकाश यादव, प्रो0 सोनू यादव, प्रो0 विनोद यादव, प्रो0 प्रसन्न विश्वकर्मा, प्रो0 नसीम खान, प्रो0 आकाश बाल्मीकि, प्रो0 भजन लाल साहू, प्रो0 प्रकाश खरे, रक्षपाल सिंह यादव, राघवेन्द्र सिंह यादव, शोभाराम, पंकज सेन गोपाल यादव, बालकिशन, जगत झा, आशीष कुमार झा, विन्द्रावन यादव, राकेश वर्मा, बुन्देल सिंह यादव, अशोक कौशिक, सुरेश यादव, रामनाथ गौतम, विकास सोनी, रामगुलाम आचार्य, रामसेवक दिवाकर, आधार सिंह, यशपाल सिंह, अमित कुमार, विजय सिंह यादव, नंदराम यादव, राजेन्द्र सिंह यादव आदि उपस्थित रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या