प्रदेश में 102 मक्का क्रय केन्द्र से अब तक किसानों से 3,17,416.80 कु0 मक्का की खरीद की जा चुकी है। जो गत वर्षों से काफी अधिक है - नवनीत सहगल

लखनऊ: 04 दिसम्बर, 2020
उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल ने लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि सभी से अपील है कि कोविड-19 के गाइडलाइन का शत-प्रतिशत पालन अवश्य करे। इस समय सभी लोगों को विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। मास्क पहनें, हाथ धोते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग रखें तथा भीड़भाड़ से दूर रहें। दिल्ली में संक्रमण बढ़ने से प्रदेश के सीमावर्ती जनपदों में पहले से स्थिति अब बेहतर है। प्रदेश में हाॅटस्पाॅट तथा कन्टेनमेंट जोन में लगातार गिरावट आ रही है।
श्री सहगल ने बताया कि प्रदेश में सरकारी नौकरियां को जल्द से जल्द युवाओं को उपलब्ध कराने का अभियान चल रहा है। कल मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा लगभग 36 हजार बेसिक शिक्षा विभाग के नवचयनित शिक्षकांे को नियुक्ति पत्र वितरण करेंगे। इसके साथ-साथ ही स्वास्थ्य विभाग का एक ऐप ‘मेरा कोविड केन्द्र‘ ऐप भी लांच किया जा रहा है और उससे लोगों को कोविड टेस्ट करवाना और भी अधिक सुगम हो जायेगा।
श्री सहगल ने बताया कि आर्थिक गतिविधियां और अधिक तेजी से बढ़ें, इसके लिए प्रदेश सरकार निरन्तर प्रयास कर रही है। रोजगार के अवसर सृजित करने के लिए तथा आर्थिक गतिविधियां को और बढ़ाने के लिए सरकार के प्रोत्साहन से नई एम0एस0एम0ई0 इकाइयां खुल रही है। पुरानी इकाइयों को कार्यशील पूंजी की समस्या से निजात दिलाने के लिए बैंकों से समन्वय करके आत्मनिर्भर पैकेज में 4.37 लाख इकाईयों को रू0 11,062 करोड़ के ऋण बैंकों से समन्वय स्थापित कर स्वीेकृत कर वितरित किये जा रहे हैं। आत्मनिर्भर पैकेज में जो पूर्व से विद्यमान एमएसएमई इकाईयां उनकी कार्य पूंजी की समस्या, जीएसटी रिफण्ड की समस्या तथा विभागों से भुगतान की समस्या से निजात दिलाने के लिए विभाग द्वारा एमएसएमई साथी ऐप तथा उेउमेंजीपण्पद वेबसाइट भी शुरू की गयी है। ऐसे सभी एमएसएमई जिनको किसी भी प्रकार की समस्या हो वो अपना विवरण दर्ज करा सकते हैं। उसका अनुश्रवण करके उनकी समस्याओं का निजात दिलाया जायेगा। प्रदेश में रोजगार के और अवसर सृजित करने के लिए तथा अधिक से अधिक नौजवानों को रोजगारों में लगाने के लिए नई एम0एस0एम0ई0 इकाइयों के माध्यम से अभियान चला रही है और इस अभियान के अन्तर्गत 6.48 लाख नई एम0एस0एम0ई0 इकाइयांें को ऋण दिया गया है। उन्होंने बताया कि नई एमएसएमई इकाईयों से लगभग 25 लाख रोजगार के अवसर सृजित हुए हैं, ये प्रक्रिया सत्त जारी रहेगी। इस वर्ष 20 लाख नई एम0एस0एम0ई0 की स्थापना का प्रदेश सरकार ने लक्ष्य रखा है इसके लिए बैकों से लगातार समन्वय किया जा रहा है। नई इकाइयों का रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया आसान की गयी है। नई इकाइयों को लगाने के लिए बहुत कम औपचारिकताएं है जल्दी से अपनी इकाई लगायी जा सकती है और 1000 दिन तक किसी भी प्रकार की कोई भी अनुमति की आवश्यकता नहीं होगी।  
श्री सहगल ने बताया कि प्रदेश सरकार किसानों से मा0 मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर निरन्तर धान खरीद की समीक्षा की जा रही है। इस संबंध में सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि किसानों के धान की खरीद समय से हो तथा उन्हें धान व मक्का का न्यूनतम समर्थन मूल्य अवश्य मिले। धान और मक्का की खरीद का भुगतान 72 घंटे के अन्दर सुनिश्चित किया जाये। मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि जिलाधिकारी की यह जिम्मेदारी है कि किसानों को किसी प्रकार की समस्या न होे तथा क्रय केन्द्र सुचारू रूप से कार्य करे। उन्होंने बताया कि किसी भी प्रकार की अधिकारियो/कर्मचारियों द्वारा लापरवाही बरती जाती है तो उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। धान क्रय केन्द्र पर शिकायत मिलने पर जिलाधिकारी की जिम्मेदारी होगी। धान क्रय केन्द्रांे पर जिलाधिकारी द्वारा निरन्तर अनुश्रवण तथा आकस्मिक निरीक्षण करे। किसानों से निरन्तर धान की खरीद की जा रही है। उन्होंने बताया कि अब तक किसानों से 256.56 लाख कु0 धान की खरीद की जा चुकी है, जो पिछले वर्ष से डेढ़ गुना से भी अधिक है। लगभग 4800 करोड़ रूपये किसानो ंसे धान क्रय किया गया है। प्रदेश में 102 मक्का क्रय केन्द्र से अब तक किसानों से 3,17,416.80 कु0 मक्का की खरीद की जा चुकी है। जो गत वर्षों से काफी अधिक है।
प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,71,816 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 1,99,60,393 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना सेे संक्रमित 1985 नये मामले आये हैं। प्रदेश में 22,665 कोरोना के एक्टिव मामले में से 10,653 लोग होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 2135 लोग ईलाज करा रहे हैं, इसके अतिरिक्त बाकी मरीज एल-1, एल-2 तथा एल-3 के सरकारी अस्पतालों मंे अपना ईलाज करा रहे हंै। प्रदेश में रिकवरी का 94.46 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक कुल 5,20,637 लोग कोविड-19 से ठीक होकर पूर्ण उपचारित हो चुके हैं।
  श्री प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 1,68,600 क्षेत्रों में 4,75,712 टीम दिवस के माध्यम से 2,99,18,389 घरों के 14,60,94,538 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के डी0जी0 मेडिकल हेल्थ उ0प्र0 के पोर्टल पर जाकर घर बैठे ही आप अपने कोविड-19 टेस्टिंग के परिणाम को देखा जा सकता है। अब तक 30 लाख से अधिक लोग इस सुविधा का लाभ ले चुके है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या