पाये 50000का ऋण वो भी बिना गारंटी और रियायती ब्याज पर ऐसे करें आवेदन

कोरोना संकट में आर्थिक तंगी से निपटने के लिए मोदी सरकार द्वारा तमाम योजनाएं चलाई गई हैं. इस संकट की घड़ी में सरकार ने आम लोगों को राहत पहुंचाने का पूरा प्रयास किया है. इस कड़ी एक बार फिर मोदी सरकार ने आम लोगों को बड़ी रहात दी है. बिना गारंटी वाला लोन दरअसल, मोदी सरकार द्वारा 50 हजार रुपए का लोन उपलब्ध कराया जा रहा है. खास बात है कि यह लोन बिना गारंटी पर उपलब्ध हो रहा है. बता दें कि अब तक इस योजना का लाभ करीब 10 करोड़ लोग उठा चुके हैं. इस योजना का नाम मुद्रा शिशु योजना (Shishu Mudra Yojana) हैं. इसके तहत लोन पर ब्याज दरों में 2 प्रतिशत तक की छूट दी जा रही है. बता दें कि इस योजना के तहत लोन लेने पर 9 से 12 प्रतिशत तक का ब्याज लगता है. इसमें सरकार की तरफ से 2 प्रतिशत तक की छूट दी जा रही है. मतलब यह है कि आपको लोन पर 7 प्रतिशत की दर से ब्याज देना होगा. खास बात है कि बैंक से बिना गारंटी लोन लेने के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज नहीं लगता है. जो लोग लोन लेना चाहते हैं, उन्हें एक मुद्रा कार्ड दिया जाता है, जिसको जरूरत पड़ने पर खर्च कर सकते हैं. लोन देने का उद्देश्य इस योजना को शुरू करना का उद्देश्य है कि इस संकट की घड़ी में लोग अपना बिजनेस कर पाएं. अगर आप भी खुद का बिजनेस शुरु करना चाहते हैं, तो आपको बैंक से लोन ले सकते हैं. इसमें किसी तरह की दिक्कत भी नहीं होगी. इसके तहत आप दुकान खोलने, रेहडी पटरी लमेत अन्य छोटा बिजनेस शुरू करने के लिए लोन ले सकते हैं. बता दें, कि यह लोन वाणिज्यिक बैंकों से लेकर स्मॉल फाइनेंस बैंक, एमएफआई और एनबीएफसी द्वारा दिया जा रहा है. पात्रता इस योजना के तहत कोई भी शख्स लोन ले सकता है. इसके लिए वाणिज्यिक बैंक, स्मॉल फाइनेंस बैंक, एमएफआई और एनबीएफसी संस्थानों में जाकर जानकारी प्राप्त कर सकता हैं, साथ ही लोन के लिए आवेदन भी कर सकते हैं. इतना ही नहीं, आप इस लोन के लिए सरकार के https://www.udyamimitra.in/ पोर्टल पर जाकार ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं. जागरूकता के लिए शेयर अवश्य करें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या