योग से रहे निरोग : पादहस्तासन : मोटापा दूर करने का श्रेष्ठ आसन जानिये इस और क्या है लाभ और योग विधि

DR RAO P SINGH पद हस्तासन (pada hastasana) इसमें कोई शक नहीं है कि किसी भी बीमारी के इलाज से बेहतर है कि उससे बचाव कर लिया जाए। जबकि एहतियात बरतना सबसे अच्छा डिफेंस है, किसी भी बीमारी के लिए अच्छे और प्रभावी ट्रीटमेंट भी बहुत दूर नहीं हैं। योग का अभ्यास छोटी उम्र से शुरू किया जाना चाहिए। यदि आप बचपन से ही योग करना शुरू कर देते हैं, तो मोटापा और गठिया जैसी स्थिति के विकास की रिस्क को कम किया जा सकता है। ऐसे कुछ योगासन हैं जो आपको फेट और अर्थराइटिस की समस्या में राहत दिलाने और इसके लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं। उनमे से यह एक है पाद हस्तासन। यह आसन आपके आपकी शरीर के चर्बी को कम करता है, तथा बॉडी को बहुत फ्लेक्सिबल बनाता है। अर्थराइटिस के दौरान जोड़ों में दर्द होना, सूजन होना, थकान, बुखार और कमजोरी जैसे लक्षण दिखाई देते हैं जिनसे छुटकारा पाने में योग एक लाभकारी उपचार के तौर पर साबित हुआ है। दोस्तों जब आप स्कूल में पड़ते होंगें, यह आसन आपको बहुत कराया जाता था। ये आपके ब्लड सर्कुलेशन को इम्प्रूव करता है। पद-हस्तासन के लाभ बॉडी फेट को गलाकर पेट को टोन करने में मदद करता है गठिया रोग के लक्षणों को दूर कर जोड़ो के दर्द और मजबूती में सुधार करता है यह बॉडी को फ्लेक्सिबल बनाता है। यह आपके बैक तथा लेग की मसल्स को स्ट्रेच करता है। यह आपके पाचन तंत्र को इम्प्रूव करता है। यह आपकी रीड़ की हड्डी को लचीला बनाता है। यह आपके चेहेरे को चमकदार बनाता है। पद-हस्तासन योग विधि किसी समतल स्वच्छ व शांत स्थान पर सीधा खड़े हो जाएं। सामने क़ी और झुकते हुए अपने ऊपरी शरीर के ऊपरी भाग को नीचे की तरफ ले जाये और अपनी हथेलियों को जमीन से छुएं। ध्यान रखें घुटनो को सीधा ही रखें। जब आप आगे की तरफ झुके तो सांस को बाहर की तरफ छोड़ें। कुछ समय इसी मुद्रा में बिताकर श्वास के साथ हुए पुनः मूल स्वरूप में लौट आवे इसी तरह यह क्रिया 5-6 बार दौहरावे पाद हस्तासन में सावधानियां वैसे तो ये आसन सामान्य आसन है तथा सूर्य नमस्कार का ही एक भाग है तथापि इसे सावधानी से किया जाना चाहिए अन्यथा हानि हो सकती है कमर दर्द य़ा जोड़ो के अत्यधिक दर्द वाले रोगी पूर्ण गर्भावस्था क़ी स्थिति में महिला य़ा हाल ही में हुए सर्जरी में इस आसन को ना करें सेहत भरी बातें - योग व प्राकृतिक चिकित्सा के लिए सीधे हमसे जुड़े नीचे दिये लिंक पर क्लिक करें https://chat.whatsapp.com/HatEXMoCQMeIuUur7tEpwk ( ͡° ͜ʖ ͡°) 🍃 डॉ राव पी सिंह dnys🍃 योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा