महिलाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने की बड़ी पहल

0 समर्थ फाउंडेशन, सहयोग एवं पाई संस्था का संयुक्त प्रयास
0 कुरारा ब्लाक के गांवों में कार्यक्रम, समापन 8 मार्च को होगा
0 वीएचएनडी पर मिलने वाली सुविधाओं और परिवार नियोजन के प्रति किया जा रहा जागरूक
गणेश सिंह
हमीरपुर, 19 फरवरी 2021 समर्थ फाउण्डेशन, सहयोग एवं पाई संस्था के संयुक्त तत्वावधान में कुरारा ब्लाक के गांवों में 16 दिवसीय स्वास्थ्य अधिकार अभियान की शुरुआत की गई है। इस अभियान के तहत गांव-गांव महिलाओं को स्वास्थ्य के मुद्दे पर जागरूक किया जा रहा है। अभियान का समापन अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च के दिन होगा। कुरारा ब्लाक के पचखुरा गांव में आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में आशा बहू सियादुलारी ने ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण स्वच्छता दिवस (वीएचएनडी) में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस दिन महिलाओं व किशोरियों के टीके लगाए जाते हैं। गर्भवती महिलाओं को पंजीकरण, प्रसव पूर्व चार जांचें व गर्भवती को परामर्श प्रदान किया जाता हैं। एनीमिया की कमी को दूर करने के लिए आयरन एवं फोलिक एसिड टेबलेट दी जाती हैं। सहयोग से जुड़े समर्थ फाउण्डेशन के देवेंद्र गांधी ने बताया कि स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं पर समुदाय को जागरूक करने, केंद्रीय स्वास्थ्य बजट की जानकारी प्रदान करने व गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं सभी को मिले इसके लिए समुदाय को जागरूक किया जा रहा हैं। परिवार नियोजन के विभिन्न साधन जैसे निरोध, अंतरा इंजेक्शन, छाया, पीपीआईयूसीडी, पुरुष एवं महिला नसबंदी की जानकारी प्रदान की जा रही है। शुक्रवार को ग्राम सिमरा एवं पचखुरा में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को बाल विवाह व वीएचएनडी से मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी दी गई। नुक्कड़ नाटक टीम में पारुल, अर्चना, कन्हैया, विष्णु आदि ने बाल विवाह से होने वाले खतरें पर समुदाय की समझ बनाई। वही ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस में मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी दी। सिमरा में आयोजित प्रतियोगिता मे विजयी प्रतिभागियों को आशा बहू रमाकांती ने इनाम वितरित किया। इसके अलावा जगनपुर, टोडरपुर, मिश्रीपुर, शिवनी आदि गांवों में स्वास्थ्य अधिकार अभियान के दौरान महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, कन्या सुमगला योजना, केंद्रीय बजट एवं गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाओं आदि की जानकारी विस्तार से देते हुए परिवार नियोजन के साधनों की जानकारी प्रदान की गई। सीता देवी, कुलदीप कुमार ने महिलाओं को जागरूक किया। स्वास्थ्य को लेकर जागरूक हो रहे हैं लोग कुरारा सीएचसी के एमओआईसी डॉ.पीके सिंह का कहना है कि क्षेत्र में स्वास्थ्य के मुद्दे पर कार्य कर रही संस्थाओं की वजह से लोगों में जागरूकता आई है। लोगों की वीएचएनडी दिवसों के साथ-साथ परिवार नियोजन से जुड़े कार्यक्रमों में भागीदारी बढ़ी है। प्रसव पूर्व जांच और शासन द्वारा संचालित अन्य कार्यक्रमों में भी लोग दिलचस्पी ले रहे हैं।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या