विधान मण्डल के सभी सदस्यों के अन्तिम प्रशिक्षण सत्र का शुभारम्भ एंव समापन सभापति श्री मानवेन्द्र सिहं एवं उप मुख्यमंत्री श्री दिनेश शर्मा ने किया।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
उत्तर प्रदेश विधान मण्डल की कार्यप्रणाली के पेपरलेस एवं सुगम संचालन हेतु विधान मण्डल के सभी सदस्यों के अन्तिम प्रशिक्षण सत्र का शुभारम्भ एंव समापन सभापति श्री मानवेन्द्र सिहं एवं उप मुख्यमंत्री श्री दिनेश शर्मा ने किया। विधानमंडल की कार्यवाही के पेपरलेस संचालन एवं आईपैड के सुगम क्रियान्वयन हेतु विधानमंडल के सभी सदस्यों का तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के मार्गदर्शन में केंद्र सरकार की तर्ज पर उत्तर प्रदेश विधानमण्डल भी इस बार पेपर लेस बजट प्रस्तुत करने के साथ-साथ प्रदेश सरकार द्वारा 18 फरवरी 2021 से प्रारंभ होने वाली विधानमंडल की कार्यवाही कागज मुक्त (पेपरलेस) संपादित की करेगी। सदस्यों को विधानमंडल की कार्यवाही के पेपरलेस संचालन एवं आईपैड के सुगम क्रियान्वयन हेतु तीन दिवसीय आईपैड, टेबलेट प्रशिक्षण का कार्यक्रम दिनांक 12 फरवरी 2021 से विधान भवन स्थित तिलक हाल में आयोजित किया गया।
सभापति विधान परिषद श्री मानवेन्द्र सिंह ने इस अवसर पर कहा कि हम सब जानते हैं कि तकनीक ही तरक्की का मार्ग है। उन्होंने कहा कि जितना ज्यादा हमें तकनीकी ज्ञान होगा उतनी ही हमारी तरक्की का रास्ता बेहतर होगा। सभापति विधान परिषद ने माननीय मुख्यमंत्री जी को विशेष तौर पर बधाई दी और कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी ने पूर्व में ही सभी मंत्रिपरिषद सदस्यों को इस तकनीक प्रयोग के लिए पहले ही प्रशिक्षण दिलाकर कैबिनेट बैठक को पेपर लेस करने का सराहनीय प्रयास किया। योगी जी के इसी मनसा के अनुरूप विधान मण्डल के सभी सदस्य भी टेबलेट, आईपैड के माध्यम से बजट सत्र कार्रवाई में प्रतिभाग कर उत्तर प्रदेश को देश का पहला पेपर लेस बजट पेस करने वाला राज्य बनायेगें। उन्होने कहा कि वर्तमान समय में इसका बहुत बड़ा उपयोग है, इसकी बहुत बड़ी आवश्यकता है। सभापति विधान परिषद ने कहा कि दुनिया के जितने भी देशों ने तरक्की की उन लोगों ने तकनीकी का सहारा प्राथमिकता के आधार पर लिया। केंद्र सरकार की तर्ज पर ही उत्तर प्रदेश सरकार ने भी पेपर लेस बजट पेश करने का निर्णय लिया है। पेपर लेस बजट के निर्णय के अनुपालन में ही यह तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। उपमुख्यमंत्री श्री शर्मा ने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान आईपैड का प्रारंभिक ज्ञान सभी सदस्यों को दिया गया, उन्होंने कहा कि अधिकांश सदस्य स्वयं भी कंप्यूटर, लैपटॉप आईपैड को अपने प्रतिदिन की दिनचर्या में शामिल करते हैं, माननीय सदस्यों को प्रशिक्षण के माध्यम से यह जानकारी दी गयी कि वे सूचना को कैसे प्राप्त एवं प्राप्त सूचना को संरक्षित करें तथा आवश्यकता पड़ने पर उस पर टिप्पणी करना और इंफॉर्मेशन को प्रयोग कर आवश्यकता पड़ने पर उसे फॉरवर्ड कर सकें। प्रशिक्षण कार्यक्रम में आए सभी माननीय सदस्यों का प्रशिक्षण के प्रति उत्सुकता को देखते हुए मा0 सभापति श्री मानवेन्द्र सिंह जी ने बधाई देते प्रमुख सचिव संसदीय कार्य श्री जे पी सिंह, प्रमुख सचिव विधान परिषद डाॅ राजेश सिंह, प्रमुख सचिव विधानसभा श्री प्रदीप दुबे के साथ ही प्रशिक्षण कार्यक्रम में एन0आईसी0 विशेषज्ञों के साथ सभी सहयोगी अधिकारियों कर्मचारियों का आभार व्यक्त किया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा