प्रगतिशील किसानों का राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन के पदाधिकारियों ने पैर पखारकर माला पहनाकर एवं शाल भेंट कर स्वागत किया

लखनऊ, 21फरवरी2021 राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन ने केन्द्र सरकार द्वारा लागू तीनों कृषि सुधार कानूनों (बिलों) के समर्थन में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के ग्राम धनुवासाड़ ब्लाक मोहनलालगंज से किसान सम्मान एवं कृषि यंत्र पूजन कार्यक्रम का आयोजन किया। जिसका संचालन राष्ट्रीय महामंत्री वीरेन्द्र कुमार रावत एवं कार्यक्रम संयोजक प्रगतिशील किसान नन्द किशोर यादव द्वारा किया गया, जिसमें सैकड़ों प्रगतिशील किसान शामिल हुये। प्रगतिशील किसानों का राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन के पदाधिकारियों ने पैर पखारकर माला पहनाकर एवं शाल भेंट कर स्वागत किया।
इसके पूर्व बैल पूजन कार्यक्रम किया गया, जिसमें बैलों को तिलक लगाकर माला पहनाकर गुड़ खिलाते हुए पूजन किया गया। इसके बाद किसानों को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष राम निवास यादव ने कहा कि यह कार्यक्रम आज से प्रारम्भ होकर आगामी 2मार्च तक लगातार पूरे देश में चलता रहेगा और कृषि बिल से संबंधित किसानों के मन में जो भ्रांतियों है उन्हे राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन द्वारा दूर किया जायेगा। कृषि कानूनों को लेकर जिस प्रकार अराजकतावादी संगठनों ने किसानों में भ्रम फैलाने का काम किया उसकी निन्दा की गयी। प्रगतिशील किसानों ने राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन से तथाकथित किसान संगठनों एवं उनके नेताओं पर प्रतिबन्ध लगवाने की मांग की। किसान चौपाल को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राम निवास यादव ने कहा कि अराजकतावादी तथाकथित किसान संगठन व उनके नेता किसानों के नाम पर कृषि बिलों के खिलाफ लगातार दुष्प्रचार कर देश में अराजकता फैलाने का काम कर रहे है, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के नाम पर दलालों ने जबरन कब्जा कर रखा है जिससे देश का अन्नदाता बदनाम हो रहा है किसानों के नाम पर राजनीति चमकाने वालों के खिलाफ देश का अन्नदाता एवं असली किसान उठ खड़ा हुआ है। कृषि सुधार कानूनों से मिलने वाले फायदों से किसानों को अवगत कराया। उन्होने कहा कि मोदी सरकार ने इन तीनों कृषि सुधार कानूनों (बिलों) को खेत, खिलहान, किसान को केन्द्र बिन्दु मान कर लागू किया है। कुछ किसान संगठन के दलालों द्वारा कृषि बिल का विरोध किया जा रहा है जिससे किसानो को भ्रमित किया जा रहा है। दुर्भाग्य से देश के कुछ विपक्षी राजनेता और दल भी इस तथाकथित किसान आंदोलन की आड़ में देश के किसानों के खिलाफ षडयंत्र रचने का काम कर रहे है। जो भारी चिंता का विषय है। राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन इन नकली किसान संगठनों एवं इनके नेताओं के खिलाफ लगातार आंदोलन जारी रखेगी एवं इनके द्वारा किये जा रहे किसानों के खिलाफ षडयंत्र को बेनकाब करेगी। राष्ट्रीय अन्नदाता यूनियन द्वारा राट्रव्यापी किसान सम्मान एवं कृषि यंत्र पूजन कार्यक्रम का प्रारम्भ कर दिया गया है सभा को राष्री्मय महामंत्री अवधेश प्रताप सिंह के साथ ही अन्य प्रगतिशील किसानों ने भी अपने वक्तब्य रखे। कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपाध्यक्ष राज कुमार लोधी, जिला अध्यक्ष लवकुश यादव, ब्लाक अध्यक्ष शिव कुमार यादव, प्रगतिशील किसान उमाशंकर साहू, रंजीत यादव, ललित साहू के साथ ही सैकड़ो किसान भाई उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा