राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज ललितपुर में महाराज सुहेलदेव जी की जयन्ती तथा माँ सरस्वती जी का पूजन

ललितपुर,स्थानीय राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज ललितपुर में महाराज सुहेलदेव जी की जयन्ती तथा माँ सरस्वती जी का पूजन अर्चन विधवत किया गया कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमती पूनम मलिक (प्रधानाचार्या G.G.I.C Lalitpur) ने की इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में दिनेष चन्द्र जी पर्व प्रवक्ता (G.I.C.) आषीश चैबे-जिला कार्यवाहक राष्ट्रीय स्वंम सेवक संगठन(RSS)तथा शिवम अग्निहोत्री- हिन्दू युवावाहिनी कार्यवाहक जिला अध्यक्ष, जिला संयोजक(ABVP) -पियुष प्रताप सिंह बुन्देला, तहसील संयोजक महेन्द्र प्रताप सिंह, शिवम वर्मा जी उपस्थिति रहे।
दूरदर्शन के माध्यम से छात्राओं को देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एंव उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री श्री योगी जी का संजीव प्रसारण छात्राओं एवं अध्यापिकाओं को दिखाया गया। प्रातःकाल विद्यालय से तुवन मंदिर होते हुए रैली का आयोजन किया गया जिसमें राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज ललितपुर, राजकीय हाईस्कूल दैलवारा एवं विभिन्न विद्यालयों के के छात्र-छात्राओं द्वारा प्रतिभाग किया गया। संजीव प्रसारण के बाद, इन छात्राओं में नितिका 12ए-2 राजकीय हाईस्कूल दैलवारा से छात्र राज सेन -10 देशभक्ति से ओत प्रोत प्रस्तुति दी । आध्यापिका श्रीमती सोनाली सूर्यवंशी जी ने सुहेल देव महाराज जी के जीवन पर विस्तृत व्याख्या की इस उपलक्ष्य में महाराजा सुहेलदेव जी के जीवन पर एक ऑनलाइन निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया
जिसमें विजयी छात्र छात्राओं में 1.प्रथम-मनीशा राजपूत/निर्भान सिंह -10वी 2. द्वितीय- मुस्कान राजपूत/मुलायम सिंह -9सी 3. तृतीय - रागनी लोधी/श्री राजेश लोधी -10बी रहे। श्री दिनेशचन्द्र जी ने वंसत पंचमी के उपलक्ष्य में माँ सरस्वती जी की विस्तुत स्वरूप की व्याख्या की तथा प्रधानाचार्य जी ने माँ सरस्वती जी की व्याख्या करते हुए वसंत के महत्व को समझाया प्रधानाचार्य जी ने अपने विचार महाराजा सुहेलदेव एवं वसंत पंचमी पर प्रस्तुत करते हुए सभी छात्राओं को भारत के स्वर्णिम अतीत की जानकारी दी अन्त में सभी का अभार व्यक्त किया। इस मौके पर विद्यालय की सभी अध्यापिकाएं-श्रीमती रागनी चैधरी, श्रीमती अर्पिता जैन, श्रीमती प्रियंका गौरव, श्रीमती सोनाली सूर्यवंशी, श्रीमती मनीशा वर्मा एवं सभी विद्यालय का स्टाफ श्री धरनीधर दुबे, जाहिद मंसुरी, आशीष तिवारी, संजय गौतम, रक्षपाल सुमन एवं सभी स्टाफ उपस्थित रहे। कार्यलय का संचालन रक्षपाल सुमन ने किया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या