गुणवत्ता को ध्यान में रखकर 12 पैकेजों में होगा, गंगा एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य - अवनीश कुमार अवस्थी

अपर मुख्य सचिव, गृह व यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने गंगा एक्सप्रसवे के भूमि अधिग्रहण से संबंधित जिलाधिकारियों व यूपीडा के आला अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की, जिसमें वर्तमान में चल रहे भूमि क्रय/अधिग्रहण के कार्यों से अवगत कराते हुए शेष भूमि का क्रय/अधिग्रहण शीघ्रता से पूरा करने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया। बैठक में श्री अवस्थी द्वारा बताया गया कि यूपीडा द्वारा गंगा एक्सप्रेसवे हेतु अब तक कुल भूमि के सापेक्ष 1248 हेक्टेयर लगभग यानि 18 प्रतिशत भूमि का क्रय/अधिग्रहण किया जा चुका है, जिसमें अब तक लगभग धनराशि रू0 1300 करोड़ का व्यय एक्सप्रेसवे के भूमि क्रय हेतु यूपीडा की तरफ से किया जा चुका है। बैठक में श्री अवस्थी द्वारा गंगा एक्सप्रेसवे के भूमि क्रय/अधिग्रहण हेतु जनपद हापुड़, सम्भल बदांयू, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव तथा रायबरेली के जिलाधिकारियों के साथ दूरभाष के माध्यम से वार्ता कर शीघ्रता से क्रय प्रस्ताव/सत्यापन हेतु लम्बित भूमि का शीघ्रता से सत्यापन कराकर भूमि क्रय/अधिग्रहण की प्रक्रिया को पूरा किये जाने हेतु निर्देशित किया गया। उल्लेखनीय है कि मेरठ से प्रयागराज तक 594 किमी0 लम्बी प्रस्तावित एक्सेस कन्ट्रोल्ड ग्रीन फील्ड गंगा एक्सप्रेसवे परियोजना पर बहुत तेजी से कार्य हो रहा है, इस परियोजना के भूमि क्रय हेतु यूपीडा द्वारा संबंधित जनपदों को अब तक धनराशि रू0 2138 करोड़ भेजी जा चुकी है। यह ग्रीन फील्ड परियोजना उत्तर प्रदेश के 12 जनपदों की 30 तहसीलों से होकर निकलेगी। इस परियोजना के लिए 519 गांव की कुल 7418 हेक्टेयर भूमि क्रय की जाएगी। गौरतलब है कि गंगा एक्सप्रेसवे जनपद मेरठ से शुरु होकर हापुड़, बुलन्दशहर, अमरोहा, सम्भल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ एवं प्रयागराज पर समाप्त होगा। मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुुए यह भरोसा दिलाया कि, यूपीडा द्वारा गंगा एक्सप्रेसवे के निर्माण से संबंधित भूमि अधिग्रहण/क्रय का कार्य करने की दिशा में और तीव्रता से कार्य किया जा रहा है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?