छात्र/छात्राओं के ई-लर्निंग के माध्यम से ज्ञानार्जन वृद्धि करने सम्बन्धी योजना के अन्तर्गत 18 राजकीय महाविद्यालयों में 160 प्री-लोडेड टैबलेट्स उपलब्ध कराये गये

आगामी वित्तीय-वर्ष 2021-22 में प्रदेश के 120 राजकीय महाविद्यालयों को प्री-लोडेड टैबलेट उपलब्ध कराये जाने की योजना लखनऊ, दिनांकः 25 मार्च, 2021 उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के महत्वाकांक्षी पिछडे़ जनपदों में संचालित राजकीय महाविद्यालयों के छात्र/छात्राओं के ई-लर्निंग के माध्यम से ज्ञानार्जन वृद्धि करने सम्बन्धी योजना के अन्तर्गत 07 जनपदोें के 18 राजकीय महाविद्यालयों में 160 प्री-लोडेड टैबलेट्स उपलब्ध कराये गये। इन प्री लोडेड टैबलेट में उपलब्ध कराये गये ई-कन्टेट प्रदेश के विश्वविद्यालयों/महाविद्यालयों के विद्वान एवं प्रबुद्ध शिक्षकों द्वारा तैयार किये गये हैं। कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत उक्त प्री-लोडेड टैबलेट महाविद्यालयों के छात्रों को एक वरदान के रूप में मिला जिसके माध्यम से छात्र/छात्रायें सुरक्षित रूप से आनलाईन पढ़ाई कर सकते हैं। इसके साथ ही ई-टैबलेट के माध्यम से विभिन्न ऐप्स, आनलाईन बुक्स, ई-लाईब्रेरी आनलाईन कोर्सेस, माड्यूल, वीडियो, फोटोग्राफ्स, वाइस रिकार्डिग एवं टेस्ट लिटरेचर आसानी से टैबलेट्स में सुरक्षित रख कर अपने ज्ञानार्जन में वृद्धि कर सकतें हैं। प्रदेश के पिछड़े जनपदों मे संचालित राजकीय महाविद्यालय जहाँ इन्टरनेट की सुविधा उपलब्ध नहीं है वहाँ के छात्र/छात्राओं को उक्त प्री-लोडेड टैबलेट में उपलब्ध शिक्षण सामग्री एक आशीर्वाद के रूप में मिली है। उच्च शिक्षा के क्षेत्र के लिए यह एक क्रान्तिकारी कदम है। डिजीटल शिक्षा को बढ़ावा देने हेतु प्रदेश सरकार की आगामी वित्तीय-वर्ष 2021-22 में प्रदेश के 120 राजकीय महाविद्यालयों को प्री-लोडेड टैबलेट उपलब्ध कराये जाने की योजना है ।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या