मनुष्य को माता-पिता एक ही बार मिलते हैं, इसलिए सेवा करें: एडीएम

वरिष्ठ नागरिक कल्याण सेवा समिति का प्रान्तीय अधिवेशन संपन्न शिवम अग्निहोत्री
ललितपुर। वरिष्ठ नागरिक कल्याण सेवा समिति का प्रांतीय अधिवेशन स्थानीय एक होटल में संपन्न हुआ। जिसमें पुरानी कार्य समिति को भंग किया गया नए लोगों को चुनकर नए पदाधिकारियों का सम्मान किया गया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र ने कार्यक्रम के मुख्य आतिथ्य के तौर पर मौजूद रहे। प्रारंभ में मां सरस्वती की पूजन अतिथियों का स्वागत के उपरांत समिति के जिलाध्यक्ष प्रताप नारायण दीक्षित ने अपनी कार्यकाल में कार्यों का विवरण देते हुए अपनी बात रखी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी ने कहा कि माता-पिता की उपयोगिता के बाद उनका सम्मान ना करने वालों को मनुष्यता की श्रेणी से पतित माना। साथ ही माता-पिता हर व्यक्ति को एक ही बार मिलते है। सौभाग्य से बाकी धन, दौलत, पत्नी सब कुछ द्वारा मिल जाता है, लेकिन माता-पिता नहीं। आगे उन्होंने कहा वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान एवं सुरक्षा शासन एवं समाज की उत्तरदायित्व है। उनकी हर छोटी बड़ी समस्या का निदान सरकार के माध्यम से होता रहेगा। यह में मंच के माध्यम से कह रहा हूं। इस मौके पर प्रांतीय अध्यक्ष बीपी दीक्षित, ने समिति के संविधान अनुसार नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शपथ दिलाई एवं उन्होंने कहा ललितपुर जनपद में वृद्धावस्था पेंशन मनोरंजन केंद्र की स्थापना एवं उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा निर्गत राज आज्ञा अनुसार शासन प्रशासन द्वारा वरिष्ठ नागरिकों के प्रति कार्य करने की मांग की माध्यम से रखी। सम्मति से रिटायर विद्युत विभाग की वरिष्ठ बाबू देवी प्रसाद पाराशर प्रभु को अध्यक्ष महामंत्री जयशंकर प्रसाद द्विवेदी, कोषाध्यक्ष रामप्रसाद रिछारिया को चुना गया। उपाध्यक्ष के लिए जेके सिंह, अवध बिहारी उपाध्याय के साथ संरक्षक मंडल में पीएम दीक्षित, डीपी मिश्रा का भी मनोनयन किया गया। अन्य पदों का निर्वाचन भी सर्वसम्मति से संपन्न हुआ। बैठक में राजाराम गोस्वामी, विनय दुबे, लालाराम बाजपेई, इसरार अली, डा.सतीश कुमार सुड़ेले, केदारनाथ तिवारी, केके द्विवेदी, ए.के.सिंह, शिव बाबू पांडे, रामबाबू कटारे, रामसेवक, पार्थ आर्य, बाबूलाल द्विवेदी, पीएन बाजपेई, के.पी.पांडे, आर.के.सहरिया, एमपी तिवारी, आर.एस.राजपूत, रामनारायण पाठक, शम्भूदयाल अहिरवार आदि उपस्थित रहे। बैठक का संचालन जय प्रकाश द्विवेदी ने किया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या