खंड विकास अधिकारी ने की बकरी घरों की जांच

बीडीओ की जांच में सब कुछ मिला चकाचक
आवास में बकरी घर बनाने के मामले को नहीं देखा
भरुआ सुमेरपुर। ग्राम पंचायत बिरखेरा में मनरेगा योजना के तहत बनवाए गए बकरी घर के निर्माण में की गई धांधली की जांच के लिए रविवार को खंड विकास अधिकारी अभिमन्यु सेठ, एपीओ मनरेगा विकास कुमार तथा सहायक विकास अधिकारी आईएसबी राम मनोहर सोनी के साथ गांव पहुंचे और निर्माणाधीन बकरी घरों का अवलोकन किया. उन्होंने बताया कि सभी बकरी घर बने हुए हैं. आवास को बकरी घर बनाए जाने के मामले को उन्होंने मौके पर नहीं देखा. जिससे शिकायतकर्ता निराश हुआ है. खंड विकास अधिकारी को लाभार्थियों ने बताया कि ग्राम प्रधान पति ने बतौर कमीशन 30 हजार रुपये वसूल किया है. खंड विकास अधिकारी ने जांच कराने का आश्वासन दिया है. इस प्रकरण में सचिव से स्पष्टीकरण मांगा गया है. रविवार को खंड विकास अधिकारी ने ब्लॉक के अधिकारियों के साथ बिरखेरा गांव पहुंचकर बकरी घरों का निरीक्षण किया. जयनरायन के आवास को बकरी घर बना देने का उन्होंने अवलोकन नहीं किया. इससे जयनरायन निराश हुआ है. निरीक्षण के बाद उन्होंने पंचायत भवन में बैठकर ग्रामीणों की शिकायतों को सुनकर निस्तारण के आदेश दिए. खंड विकास अधिकारी ने बताया कि लाभार्थियों ने ग्राम प्रधान पति पर रुपए वसूलने का आरोप लगाया है. इसकी जांच के लिए 3 सदस्यीय टीम गठित की गई है. जांच रिपोर्ट आने के बाद निर्वतमान प्रधान के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत अधिकारी वीरेंद्र पाल से इस प्रकरण में स्पष्टीकरण मांगा गया है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या