आवासविहीन समस्त परिवारों को आवासों से संतृप्त किये जाने हेतु राज्य सरकार दृढ़ संकल्पित - मोती सिंह

लखनऊ, दिनांकः 16 मार्च, 2021 ग्राम्य विकास मंत्री, श्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ’’मोती सिंह’’ तथा ग्राम्य विकास राज्य मंत्री श्री आनन्द स्वरूप शुक्ला द्वारा आज जनपद लखनऊ में कराये गये विकास कार्यो का लोकार्पण विकास खण्ड मोहनलालगंज के परिसर में किया गया। इसके तहत 78 क्षेत्र पंचायत निधि के कार्यो तथा 240 मनरेगा योजनान्तर्गत निर्मित कार्यो का लोकार्पण किया गया। इसके अतिरिक्त ग्राम्य विकास मंत्री द्वारा मनरेगा योजना के अन्तर्गत 926 व्यक्तिगत लाभार्थीपरक/अन्य कार्य लाभार्थियों को समर्पित किये गये और 20 लाभार्थियों को कैटलशेड समर्पण का पत्र आवंटित किये गये। ग्राम्य विकास मंत्री ने मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत 25 लाभार्थियों को चाभी उपलब्ध कराई। उन्हांेने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के अन्तर्गत 410 समूहों को रिवालिं्वग फण्ड, 230 समूहों को सीआईएफ, 24 ग्राम संगठनों को वीआरएफ, 18 ग्राम संगठनों को स्टार्टअप फण्ड की कुल धनराशि रू0 3 करोड़ 43 लाख 50 हजार की धनराशि एवं बीसी सखी इत्यादि को इलेक्ट्रानिक इक्यूपमेन्ट का वितरण भी किया। इस अवसर पर कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्री मोती सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अन्तर्गत आवासविहीन समस्त परिवारों को आवासों से संतृप्त किये जाने हेतु राज्य सरकार दृढ़संकल्पित है। उन्होंने माननीय मुख्यमंत्री एवं माननीय प्रधानमंत्री के उद्देश्यों को साकार किये जाने की प्रतिबद्धता का संकल्प लेते हुए विकास के विभिन्न कार्यों की सराहना करने के साथ ही जनपद को प्रगति की राह पर अग्रसर होने हेतु शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम में राज्य मंत्री ग्राम्य विकास, श्री आनन्द स्वरूप शुक्ला द्वारा स्वयं सहायता समूहों के सशक्तिकरण एवं आजीविका के क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों की प्रशंसा की गयी एवं मनरेगा योजनान्तर्गत किये जा रहे प्रगति तथा कोविड-19 के अन्तर्गत महत्वपूर्ण भूमिका के रूप में कार्य किये जाने की सराहना की गयी। इसके अलावा मुख्य विकास अधिकारी द्वारा कार्यक्रम की रूपरेखा से विस्तृत रूप से अवगत कराया गया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या