राष्ट्रीय राजमार्ग पर कट लगवाने की मांग

ग्रामीणों ने मुख्यालय पहुंचकर डीएम को भेजा ज्ञापन
शिवम् ललितपुर। राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 44 के किलोमीटर संख्या 55/500 आजदपुरा, तरगुवां, बागरनी, निगरौरा, मार्ग पर दोनों ओर कॉफी आवागमन लगा रहता है, लेकिन कट न होने के कारण लोगों को परेशानी होती है व दुर्घटनायें होती रहती है इसे रोकने के लिए इस स्थान पर जनहित में कट बनाये जाने की मांग तेज हो गई है। आज ग्रामीणों ने मुख्यालय पहुंचकर जिलाधिकारी के नाम एसडीएम को ज्ञापन भेजा है। ज्ञापन में ग्रामीणों ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 44 पर किलोमीटर क्रमांक 55/500, तालबेहट क्षेत्र के पास स्थित ग्राम आजादपुरा तरगुंवा, बागरनी, निगरौरा पर दोनों तरफ से काफी आवागमन लगा रहता है और वहीं से किलोमीटर 56 पर भी तरगुंवा ग्राम सभा की किसान मण्डी के लिए रास्ता नहीं है, जिससे जनता को काफी परेशानी तो होती ही है और काफी दुर्घटनायें भी होती रहती है। लोगों में भय व्याप्त रहता है। जबकि उक्त मार्ग पर कट 55/40 पर कट है जो काफी दूर है और जनहित में उसका कोई भी उपयोग नहीं है और न वहां से किसी भी गांव के लिए रास्ता जाता है, उसका हाईबैंक राईट साईड में 12 मीटर है तथा लेपट साईड में 6 मीटर है इसकी जगह किलोमीटर 56 पर कट बनाकर रास्ता दिये जाने से जनता को आने जाने में काफी सुविधा रहेगी और दुर्घटनाओं से भी निजात जनता को मिलेगी। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से जनता की सुविधा को देखते हुये किलोमीटर 56 या 55/500 पर कट बनाकर रास्ता दिये जाने हेतु राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों को जनहित में उचित आदेशित किये जाने की मांग उठायी है। ज्ञापन पर दीप सिंह, जगदीश, मान सिंह, राजेश, रतन सिंह, विनय कुमार, श्रीपत, राघवेंद्र सिंह, सचिन सिंह, नृपत, हिमांशु शिवहरे, जगदीश, मनोहर, प्यारेलाल, हजारीलाल, जानकी, काशीराम, रामस्वरूप, विनय कुमार, राजबहादुर, रघुवर सिंह, बुद्धलाल, सचिन सिंह, बलराम, सुरेंद्र कुशवाहा, सरनाम सिंह, रमेश, सुरेश, लाल सिंह के अलावा अनेकों ग्रामीण मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या