लोक निर्माण विभाग कराएगा रु०50 करोड़ की ऊपर की धनराशि के 75 शासकीय भवनों का निर्माण

लखनऊः 13 अप्रैल 2021 उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य के कुशल मार्गदर्शन में ई०पी०सी० मोड पर रू० 50.00 करोड़ से अधिक लागत के कुल 75 शासकीय भवनों का निर्माण कार्य कार्यदायी संस्था लोक निर्माण विभाग द्वारा कराया जायेगा,जिसमें श्रम विभाग के 18 कार्य, चिकित्सा शिक्षा विभाग के 16 कार्य, अल्पसंख्यक एवं वक्फ विभाग के 03 कार्य, गृह विभाग के 18 कार्य, कारागार विभाग के 03 कार्य, उच्च शिक्षा विभाग के 4 कार्य, न्याय विभाग के 06 कार्य, माध्यमिक शिक्षा विभाग के 01 कार्य, आयुष विभाग का 01 कार्य, पशुधन विभाग का 01 कार्य, खेल विभाग का 01 कार्य, नगर विकास विभाग का 01, चिकित्सा एवं स्वास्थ विभाग का 01 कार्य एवं धर्मार्थ विभाग का 01 कार्य सम्मिलित है। इन 75 कार्यों में से 38 कार्य पूर्व से स्वीकृत है, जिनमें 01 कार्य धर्मार्थ विभाग का श्री काशी विश्वनाथ मन्दिर का विस्तारीकरण एवं सौन्दर्गीकरण लागत रू० 345.27 करोड़, श्रम विभाग के 18 अटल आवासीय विद्यालायों की स्वीकृत लागत रू0 1256.64 करोड़, 13 मेडिकल कॉलेज की स्वीकृत लागत रू0 637.21 करोड़, अटल मेडिकल विश्वविद्यालय 01 कार्य की स्वीकृत लागत रू0 201.76 करोड़ एवं यूनानी मेडिकल कॉलेज 01 कार्य की स्वीकृत लागत रू0 129.50 करोड़ है एवं 03 विश्वविद्यालय अलीगढ़,बलिया एवं सहारनपुर लागत कमशः रू0 10141 करोड़, रू0 92.76 करोड़ एवं रू0 92.04 करोड़, 01 कार्य न्याय विभाग का मल्टीलेवल कार पार्किंग मा० उच्च न्यायालय प्रयागराज लागत रू0 573 करोड़ के स्वीकृत हैं। लोक निर्माण विभाग भवन सेल से प्राप्त जानकारी के अनुसार 75 कार्यों में से 65 कार्यों में परामर्शी के चयन की प्रक्रिया पूर्ण हो गयी है जिसमें से 59 कार्यों की डी0पी0आर0 परामर्शी द्वारा गठित कराकर प्रशासनिक विभाग को प्रेषित की जा चुकी है एवं शेष 06 कार्यों की डी0पी0आर0 गठन का कार्य परामर्शी द्वारा प्रगति में है, जो कि शीघ्र ही प्रशासनिक विभाग को प्रेषित किया जाना लक्षित है। शेष 10 कार्यों हेतु परामर्शी चयन की प्रक्रिया प्रगति में है। कुल 75 निर्माण कार्यों के सापेक्ष स्वीकृत 38 कार्यों की निविदा ई0पी0सी0 मोड पर आमंत्रित कर दी गयी है, जिनमें से 35 कार्यों हेतु ई०पी0सी0 कान्ट्रैक्टर की नियुक्ति कर ली गयी है एवं शेष 03 कार्यों की निविदा प्रक्रिया में है। 35 कार्य जिन पर अनुबन्ध गठित हो गये हैं, मे से अटल मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ लागत रू0 201.76 करोड़, राजकीय मेडिकल कॉलेज,ललितपुर लागत रू0 287.57 करोड़, राजकीय मेडिकल कॉलेज कानपुर देहात ,लागत रू0 283.38 करोड़ एवं राजकीय मेडिकल कॉलेज, कुशीनगर ,लागत रू0263.00 करोड़ के कार्य चल रहे हैं। शेष मेडिकल कॉलेज निर्माण स्थलों पर ठेकेदारा द्वारा मोबिलाईजेशन का कार्य प्रगति पर है एवं पर्यावरणीय स्वीकृति जो कि भारत सरकार के इ आई ए कमेटी में सुनवाई हेतु निर्धारित है । 18 अटल आवासीय विद्यालयों मे 8 मे कार्य प्रगति पर है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि