औद्योगिक आस्थान के लिए दस एकड़ जमीन का अधिग्रहण हुआ पूर्ण

क्रेशरों को विद्युत संयोजन के लिए आगणन प्रस्ताव तैयार
शिवम अग्निहोत्री
ललितपुर। प्रभारी जिलाधिकारी/सीडीओ अनिल कुमार पांडेय की अध्यक्षता में जिला उद्योग बन्धु की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। बैठक में उपायुक्त उद्योग द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद ललितपुर के औद्योगिक विकास के दृष्टिगत जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार के औद्योगिक विकास में ली जा रही रूचि के कारण नये औद्योगिक आस्थान के लिए विद्यामहर्रा में उपस्थित 10 एकड़ से अधिक भूमि का पूर्ण ग्रहण कर भूखण्ड के विकास का प्रस्ताव उद्योग निदेशालय को भी प्रेषित किया जा चुका है। बैठक में उपस्थित सभी उद्यमियों ने जिला प्रशासन के सभी अधिकारियों मुक्तकंठ से प्रशंसा की। इसी तरह विधुत विभाग द्वारा जिलाधिकारी के निर्देशों के क्रम में माह मार्च 2021 में ही जनपद में चार बड़ी दालमिलों के विधुत संयोजन किये गए। इन मिलों में लगभग 10 से 12 करोड़ का पूंजी विनियोजन उद्योग विभाग के द्वारा कराया गया, जिसमें चार इकाईयां कार्यरत अवस्था में आयी हैं। औद्योगिक आस्थान चन्देरा में सडक़ पर स्थापित उद्यमियों के ट्रान्सफार्मर एवं मीटर रूम को तत्काल प्रभाव से अपने-अपने भूखण्ड की सीमा के अन्दर स्थापित कराये जाने के निर्देश दिये गये। बैठक में उपायुक्त उद्योग द्वारा यह भी बताया गया कि इस वित्तीय वर्ष में विभाग द्वारा संचालित रोजगार परक योजनाओं मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, एक जनपद एक उत्पाद आदि सभी योजनाओं में पहली बार सम्पूर्ण वित्तीय लक्ष्य पूर्ण करा लिया गया है जिसकी बैठक में उपस्थित सभी उद्यमियों द्वारा जिला प्रशासन एवं उद्योग विभाग की प्रशंसा की। निवेश मित्र पोर्टल पर भी उद्यमियों के कोई भी आवेदन पत्र समया सीमा के उपरान्त लम्बित नही पाये गये। जनपद के ग्राम बांसी के निकट चल रहे जनरेटर के माध्यम से 8 से 10 क्रेशरों के लिए विधुत की व्यवस्था कराये जाने हेतु किये जा रहे प्रयासों में विधुत विभाग द्वारा आगणन प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। इन क्रेशरों उद्योगों के लिए विधुत पावर व्यवस्था से इन क्रेशरों में अच्छा खासा काम होने लगेगा। बैठक में अपर जिलाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि विगत 02 वर्षो में इस इस वर्ष कोविड-19 प्रभावित होने के बावजूद भी काफी उद्योगों के विकास में अच्छी प्रगति हुई है। जनपद में बल्क ड्रग पार्क एवं एयरपोर्ट के आ जाने से भी उद्योगों का विकास तय है। इसके उपरांत प्रभारी जिलाधिकारी द्वारा उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये गये गए कि उद्योगों के हित में सदैव प्रो-एक्टिव रोल अदा कर उनका विकास कराते रहे। उन्होंने उद्योग विभाग द्वारा कराये जा रहे कार्यो की भी प्रसंशा की एवं अगले वित्तीय वर्ष में सभी रोजगारपरक वित्तीय योजनाओं के लिए माह अप्रैल से प्रयास करने के निर्देश दिए। बैठक में प्रभारी डीएम अनिल कुमार पाण्डेय, एडीएम अनिल कुमार मिश्र, एसडीएम सदर, ग्रामोद्योग अधिकारी, श्रम प्रवर्तन अधिकारी, अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, ईओ, स्माल स्केल इण्डस्ट्रीज एसोशियेशन एवं उद्यमीगण उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा