सपा सरकार में यूपी रत्न से सम्मानित हुये थे नेताजी राजेन्द्र रजक

राजेन्द्र रजक के निधन पर समाजवादी पार्टी ने जताया शोक
ललितपुर। डा.राममनोहर लोहिया के आदर्शों को जीवन में आत्मसात करते हुये समाजवादी विचारधारा को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले नेताजी राजेन्द्र रजक का बीते रोज हृदयाघात से आकस्मिक निधन हो गया। उनके निधन से जनपद के तमाम राजनेता, समाजसेवी, व्यापारी, पत्रकार, अधिवक्ता और आमजन ने गहरा शोक व्यक्त किया है। तो वहीं दूसरी ओर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी अपने फेसबुक व ट्वीटर एकाउण्ट से नेताजी राजेन्द्र रजक के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त करते हुये शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदनायें व्यक्त की थी। शुक्रवार को समाजवादी विचारक नेताजी राजेन्द्र रजक के आकस्मिक निधन पर समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. के स्टेशन रोड स्थित आवास इन्द्रप्रस्थ पर एक शोकसभा का आयोजन किया गया। सभा में समाजवादी पार्टी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने शोक व्यक्त करते हुये राजेन्द्र रजक के निधन को अपूर्णीय क्षति बताया। सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. ने कहा कि समाजवादी विचारधारा लोगों को समरसता के एकसूत्र में बांधने वाली है। उन्होंने कहा कि जिले के चल रहे विकास कार्यों पर मंथन करना और भ्रष्टाचार के खिलाफ मुखर होकर आवाज उठाना यह सर्वोत्तम गुण था नेताजी राजेन्द्र रजक में। उन्होंने निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुये कहा कि समाज को आगे बढ़ाने में ऐसे विरले लोग ही होते हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में नेताजी राजेन्द्र रजक के समाजसेवी कार्यों को देखते हुये यूपी रत्न से भी सम्मानित करने का कार्य किया था। सभा के उपरान्त समाजवादी विचारक नेताजी राजेन्द्र रजक के निधन पर सभी सपाई ने दो मिनिट का मौन धारण कर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। सभा में पूर्व विधायक फेरनलाल अहिरवार, रमेश सिंह यादव, कृष्णस्वरूप निरंजन, अमरसिंह भैरा, यूथ ब्रिगेड जिलाध्यक्ष हृदेश मुखिया, सुरेन्द्र पाल सिंह, हरगोविंद चौरसिया, राजेश तिवारी, महेन्द्र सिंह एड, अनुराग परोंदा, राजा यादव, दीपक झां आदि ने अपने विचार रखे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या