हिन्दू महासभा ने शंखनॉद के साथ किया नववर्ष का स्वागत

प्रदेशभर में नववर्ष के स्वागत के साथ मनाया स्थापना दिवस, जारी किया कैलेण्डर लखनऊ। अखिल भारत हिन्दू महासभा, उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी के आह्वान पर आज पूरे राज्य में शंखनॉद और घंटा-घड़ियाल बजाकर हिन्दी नववर्ष विक्रम संवत्सर 2078 का स्वागत किया और पार्टी के स्थापना दिवस समारोह का आयोजन कर हिन्दी तिथि का कैलेण्डर जारी किया। तय कार्यक्रम के अनुसार पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने पूरे प्रदेश में प्रातः साढ़े बजे शंखनॉद एवं घंटा घड़ियाल बजाकर भारतीय नववर्ष विक्रम संवत्सर 2078 का जोरदार ढंग से स्वागत किया। इस क्रम में प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने अपने अलीगंज स्थित आवास पर परिवार के साथ पूजा अर्चन के साथ शंखनॉद कर सूर्यादय के समय नववर्ष का स्वागत किया। इसी तरह प्रदेश के विभिन्न जनपदों और नगरों में भी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भी नववर्ष का जोरदार ढंग से स्वागत किया। प्रातः नववर्ष के स्वागत के बाद अपराह्न 2 बजे कुर्सी रोड स्थित पार्टी के प्रदेश कैम्प कार्यालय में हिन्दू महासभा का स्थापना दिवस मनाया। इस मौक पर हिन्दी तिथि का कैलेण्डर भी जारी किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी, प्रदेश प्रभारी शिव पूजन दीक्षित, प्रदेश महामंत्री सिद्धार्थ दुबे, विधिक प्रकोठ के प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र श्रीवास्तव सहित काफी संख्या में लोग मौजूद थे। इस मौके पर हिन्दू महासभा के संस्थापकों के जीवन पर प्रकाश डालते हुये प्रदेश अध्यक्ष ऋषि त्रिवेदी ने कहा कि संस्थापकों ने जिन विचारों और सिद्धान्तों के साथ हिन्दू महासभा की स्थापना की थी, वही विचार और सिद्धान्त देश की जरूरत है। हिन्दू महासभा के विचारों और सिद्धान्तों की राह पर चल कर ही देश में हिन्दुत्व की रक्षा की जा सकती है। इस मौके पर हिन्दू महासभा के प्रदेश प्रभारी शिवपूजन दीक्षित, विधिक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने भी हिन्दू महासभा के संगठनात्मक ढांचे पर चर्चा की और देश को हिन्दू महासभा के विचारों, सिद्धान्तों और नीतियों को अपनाने की जरूरत बताया।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि