रेडक्रॉस अस्पताल को मिली तीन नई डायलिसिस मशीन , न्यूनतम दरों पर होगी डायलिसिस

रेडक्रॉस अस्पताल को मिली तीन नई डायलिसिस मशीन , न्यूनतम दरों पर होगी डायलिसिस
कोरोना संकट में पीड़ितों को मिलेगी राहत, रोटरी क्लब मिडटाउन ने साधारण समारोह में मशीनें की समर्पित
भोपाल। प्रदेश में कोरोना संकट के बीच राहत की खबर यह है कि दिनांक 15 अप्रैल से रेडक्रॉस अस्पताल में तीन और नई डायलिसिस मशीन स्टॉल हो गई हैं। जिससे मरीजों को जरूरत के समय चिकित्सा लाभ मिल सकेगा। रेडक्रॉस अस्पताल में बहुत ही न्यूनतम दर पर डायलिसिस किया जाता है। किडनी संबंधी बीमारियों में बार-बार डायलिसिस की जरूरत होती है। रेडक्रॉस अस्पताल द्वारा की जा रही सेवा को ध्यान में रखते हुए रोटरी क्लब मिडटाउन, ने तीन डायलिसिस मशीनें दान की है। रेडक्रॉस मध्य प्रदेश शाखा के चेयरमैन श्री आशुतोष पुरोहित ने बताया कि चिकित्सालय द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं को और अधिक आधुनिक, जनोपयोगी व सुलभ बनाने की संकल्प लिया था। मरीजों को आधुनिक चिकित्सा सुविधाएं सस्ती और सुलभता से मिल सके इसी के लिए निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। इसी क्रम में नई आधुनिक डायलिसिस मशीनों के लिये रोटरी क्लब से संपर्क किया। कोरोना के चलते इन तीनों डायलिसिस मशीन से लोगों को बहुत राहत मिलेगी। मशीनों के साथ एक आरओ, जो मशीनों के लिये अति आवश्यक होता है, और बड़ी टीवी भी रोटरी क्लब द्वारा उपलब्ध कराई गई हैं। रोटरी इंटरनेशनल ग्रॉट, रोटरी क्लब ऑफ ल्यूटन नार्थ एवं रोटरी क्लब मिडटाउन भोपाल के संयुक्त प्रयासों से तीन डायलिसिस मशीनों को रेडक्रॉस अस्पताल को मिली हैं। रोटरी क्लब मिडटाउन के अध्यक्ष श्री सुनील भार्गव, श्री अमित तनेजा, श्री संजय निगम, श्री शुभ्रांशु उपाध्याय, और श्री वीरेन्द्र गुर्जर, रोटरी क्लब भोपाल मिडटाउन के सदस्यगणों ने तीन डायलिसिस मशीन को अस्पताल प्रबंधन को सौपा। श्री सुनील भार्गव ने बताया कि लोगों को कम दर पर डायलिसिस की सुविधा मिल सके इसलिये रेडक्रॉस अस्पताल को तीन मशीनें दी गई हैं। भोपाल में बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते प्रदेश सरकार रेडक्रॉस को कोविड सेंटर बनाने जा रही है। कोविड सेंटर बनने के बाद यदि किसी मरीज को डायलिसिस की जरूरत होती है तो अस्पताल में इस सुविधा के मिलने से मरीजों को राहत मिल सकेगी। पहले डायलिसिस मशीन को छोटे से आयोजन के साथ अस्पताल को समर्पित करना था। लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते आयोजन को रद्द कर साधारण कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में रेडक्रॉस मध्य प्रदेश के चेयरमैन श्री आशुतोष पुरोहित, प्रभारी महासचिव श्रीमती ऐलीजाबेथ जोस, रेडक्रॉस अस्पताल के अधीक्षक डॉ जेपी बुच, अस्पताल कार्यालय अधीक्षक श्री मुनीश्वर चतुर्वेदी और अस्पताल के कर्मचारी उपस्थित थे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि