सभी मास्क लगाने और शारीरिक दूरी बनाए रखने पर मंदिरों में कोरोना गाइड-लाइन के तहत दिया जाएगा प्रवेश

ललितपुर। मंगलवार को चैत्र नवरात्री की अष्टमी की पूजा करने और कल बुधवार को नवमी की पूजा करने कई श्रृद्धालु मंदिर जाएंगे, लेकिन इन श्रृद्धालु को मंदिर में कोरोना गाइड लाइन का पालन पूरी तरह से करना होगा तभी मंदिर में इन लोगों को प्रवेश दिया जाएगा। मालूम हो की आज मंगलवार को चैत्र नवरात्री के आठ दिन पूरे होने पर अष्टमी की पूजन कई लोगों के घरों में की जाती है। घरों की पूजन से पहले अधिकांश लोग शहर में माता मंदिर में पहुंचगर मां दुर्गा जी की पूजन करते है। उसके बाद घरों की पूजा होती है। पिछले साल की तरह इस साल भी कोरोना संक्रमण चल रहा है। इसकों देखते हुए मंदिर समितियां मंदिर में आने वाले श्रृद्धालु को मंदिर में उन लोगों को ही प्रवेश दे रहे है जो मुंह पर मास्क लगा रहे हैं। वहीं मदिर में आने वाले लोगों से शारीरिक दूरी का पालन करने को भी कहा जा रहा है। मां बिजासन समिति  ने बताया कि मंदिर आने वाले सभी मास्क लगाने और शारीरिक दूरी बनाए रखने को कहा जा रहा है। उन्होंने बताया कि आज अष्टमी के अवसर पर मंदिर में महा आरती का आयोजन रखा गया है। जिसमें सभी से कोरोना गाइड लाइन का पालन करने को कहा जाएगा। वहीं  मोहल्ला आजादपुरा स्थित मां बिजासन मंदिर के पंडित ह्रदेश शर्मा ने बताया कि बुधवार को रामनवमी के अवसर पर दोपहर 12 बजे महाआरती होगी। उन्होंने बताया कि मंदिर में क्रम अनुसार ही श्रृद्धालु को प्रवेश दिया जाएगा। मालूम हो की कोरोना संक्रमण के कारण पिछले दो साल से जिस तरह से चैत्र नवरात्री में श्रृद्धालु महिलाओं द्वारा और पुरुषों द्वारा मंदिर में आकर भक्ति भाव से भगवान को जल चढ़ाया जाता था और उसके बाद लोग पूजा करते थे। लेकिन इस कोरोना के कारण पिछले दो सालों से भगवान की आराधना और श्रृद्धालुओं के बीच कोरोना गाइड-लाइन की बंदिशे बाधा बनी हुई है। इसलिए मंदिरों में आने वाले लोगों को मंदिर समितियां जल चढ़ाने से रोका जाता है। और सभी लोगों से यह अपील की जाती है मंदिर में आने पर कोरोना गाइड लाइन का पालन करें, तभी मंदिरों में प्रवेश मिलेगा। वहीं नवरात्री के दौरान महिलाओं द्वारा जो भजन- कीर्तन किए जाते थे पिछले दो सालों से मंदिरों में होने वाले भजनों पर भी रोक लगी हुई है। इस वजह से दो सालों से भगवान और भक्तों के बीच यहा कोरोना संक्रमण रोड़ा बना हुआ है। मंदिर में आने वाले लोग भगवान से यह प्रार्थना करते है कि भगवान इस कोरोना को जल्द से जल्द देश से पूरी तरह से खत्म कर दो।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या