बालाबेहट में होगा चहुंमुखी विकास : तिलक यादव

बच्चों को बेहतर शिक्षा है मुख्य उद्देश्य : धनंजय यादव
ललितपुर। जनपद का सबसे पिछड़ा इलाका माने जाने वाला बालाबेहट क्षेत्र अब जनपद में विकास की नई परिपाठी में शुमार होगा। यहां बच्चों की बेहतर शिक्षा के संसाधन उपलब्ध हो सकेंगे, तो वहीं युवाओं को रोजगार और बुजुर्गों को उनकी समस्याओं से निजात मिल सकेगी। यह बात सोमवार को जिला पंचायत के वार्ड संख्या 11 बालाबेहट से सदस्य पद के लिए समाजवादी पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी युवा प्रत्याशी धनंजय यादव उर्फ भैयाजी के लिए चुनाव चिह्न कप-प्लेट पर मत रूपी आशीर्वाद मांगते हुये समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. ने कही। उन्होंने कहा कि क्षेत्र का विकास कराना ही उनका मुख्य उद्देश्य है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में बालाबेहट क्षेत्र में योजनाओं को लाकर लोगों को लाभान्वित करने का प्रयास किया था। लेकिन सत्ता बदलते ही यह प्रयास आगे नहीं बढ़ाये गये। उन्होंने कहा कि बालाबेहट क्षेत्र में विकास की अविरल धारा प्रवाहित करने के लिए वह कृत संकल्पित हैं। सपा से अधिकृत प्रत्याशी धनंजय यादव ने कहा कि गरीब परिवारों के बच्चों के बीच रहते हुये उन्हें अच्छी शिक्षा के लिए प्रेरित करने और आगे बढ़ाने के लिए वह हर संभव प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि स्थानीय प्रशासन व शासन से समय-समय पर क्षेत्र के विकास को लेकर संघर्षरत रहते हुये कार्य किया जायेगा। इस दौरान रमेश ठेकेदार, कृष्ण स्वरूप, सुरेन्द्र पाल, खिलान यादव दांवर, मलखान यादव दांवर, छोटू राजा, सुरेश प्रजापति, जाहर सहरिया, शिवराज यादव, पूरन अहिरवार, सोनू यादव, सतीश यादव, राजा सिंह यादव, वीरन यादव, बृजभान यादव, बलराम यादव पुरा, रामेश्वर अहिरवार पुरा, छोटेलाल आदिवासी पुरा, रामसिंह यादव, तिलक यादव बेटना, जगदीश पटेल सेमरा, किशन पटेल सेमरा, महेन्द्र यादव, सुरेन्द्र राजा दांवर, हरीसिंह यादव, गोविन्द सिंह गिल्टौरा, रामसिंह बरैना, अमर सिंह बरैना, तिलक सिंह बरैना, काशीराम अहिरवार, सरजु अहिरवार बालाबेहट आदि शामिल रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या