कोरोना रोकथाम में योगी सरकार पूरी तरह फेल, अब तक नहीं दे पाई है कोई ब्लू प्रिन्ट- अशोक सिंह

ऽ राजधानी लखनऊ सहित प्रमुख शहरांे में मौत का ताण्डव जारी, योगी सरकार कोमा में- अशोक सिंह ऽ योगी सरकार नित नये नियम और नाइट कफर््यू को लेकर आदेश पर आदेश कर रही है जारी, आक्सीजन सहित जीवन रक्षक दवाइयों की पूर्ति नहीं कर पा रही है सरकार- अशोक सिंह लखनऊ 15 अप्रैल 2021। उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता अशोक सिंह ने प्रदेश में जारी कोरोना के ताण्डव को लेकर योगी सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा कि पिछली कोरोना वेब से कोई सीख न लेते हुए जनता को आज मरणासन्न अवस्था में छोड़ चुकी है। मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ, राजधानी से सांसद एवं रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह सहित स्वास्थ्य मंत्री सिर्फ हवाई दावों के जरिए केारेाना के दूसरे वेब से निपटने की बातें कर रहे हैं। सरकार की निरंकुशता ही है कि आक्सीजन, दवाएं, एल-3 बेड और पर्याप्त अस्पतालों को उपलब्ध कराने की बजाए वह शवदाह गृह की बाउण्ड्री वाल को टिन शेड से ढक रही है ताकि प्रदेश की जनता मौतों की वीभत्सता और सरकार की नाकामियों को न देख सके। प्रवक्ता श्री सिंह ने कहा कि सरकार ने अगर पिछले वर्ष की कोरोना वेब से सबक लिया होता और कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी द्वारा लगातार कोरोना महामारी को रोकने एवं उसके समुचित इलाज हेतु व्यवस्था सुनिश्चित कराये जाने को लेकर योगी सरकार को सचेत किया था लेकिन बावजूद इसके अब तक सरकार की तरफ कोरोना महामारी से निपटने के लिए न तो गंभीर प्रयास किये गये और न ही कोई समुचित कार्ययोजना ही बन पाई है जिसका नतीजा है कि आज प्रदेश की जनता कोरोना की वीभत्सता में तिल-तिल कर अपनी जान गंवाने के लिए मजबूर है। प्रवक्ता ने कहा कि सरकार अब कोरोना की भयावहता को लेकर हड़बड़ाहट में अपनी विफलताओं को छुपाने के लिए आदेश पर आदेश जारी कर रही है किन्तु आम जनता केा कोरोना से बचाने हेतु समुचित इलाज और अस्पतालों में एल-3 बेडों, आक्सीजन, रेनडेसिवर इंजेक्शन आदि की व्यवस्था करने में कतई संजीदा नहीं है। यह उ0प्र0 की जनता के लिए बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि