वरिष्ठ उपाध्यक्ष के तर्क से सहमत एडीओ पंचायत ने 24 नोटिस किए निरस्त

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजकुमार को बस्ती जिले कुदरहा ब्लाक में 24 पंचायती राज सफाई कार्मिकों को अनावश्यक रूप से नोटिस जारी करने की सूचना दी गई। वरिष्ठ उपाध्यक्ष इस सूचना के आधार पर एडीओं पंचायत से मिले और उन्होंने जो तर्क सहमत एडीओ पंचायत उक्त चैबीस ग्रामीण सफाई कार्मिकों का नोटिस निरस्त कर दिया। उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजकुमार के नेतृत्व में में जिला मंत्री रूद्र नारायण उर्फ रुदल जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष मोहम्मद कलीम संगठन मंत्री गोरखनाथ मीडिया प्रभारी अरुण कुमार के साथ कुदरहा ब्लॉक अध्यक्ष जंग बहादुर के साथ सहायक विकास पंचायत अधिकारी कुदरहा से मिलकर के 24 सफाई कर्मचारियों कोरोना महामारी में अकारण नोटिस काटने का मामला संज्ञान में आया प्रतिनिधिमंडल मिलकर के 24 नोटिस को समाप्त कराया गया। एडीओ पंचायत से आपसी सामंजस्य बैठा कर सफाई कर्मचारियों से कार्य करने को कहा गया। इसके साथ ही संगठन के द्वारा सफाई कर्मचारियों को निर्देशित किया गया कि वे अपने तैनाती पर नियमित रूप से साफ सफाई का कार्य सुनिश्चित करें जिससे महामारी में लोगों को निजात मिले। प्रदेश के वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजकुमार ने बस्ती के इस प्रकरण का हवाला देते हुए प्रदेश के समस्त एडीओं पंचायत से आग्रह किया है कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना की लहर है, कम और सीमित संसाधन तथा बिना वैक्सीन ग्रामीण सफाई कर्मचारी गांवों को संक्रमण से मुक्ति में जुटे है ऐसे में सामान्य गल्ती पर नोटिस देकर इन कोरोना वीरों को लज्जित न करें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा