अब 45 वर्ष से ऊपर के भी प्रदेशवासी पंजीकरण के उपरांत मिलने वाले समय पर ही जाएँगे टिकाकरण कराने। स्वास्थ्य सम्बंधित सुरक्षा को देखते हुए प्रदेश सरकार ने जारी किया दिशा निर्देश।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

पौष्टिकता से भरपूर: चंद्रशूर