मेडीकल टीमों से अभद्र व्यवहार करने पर होगी कठोर कार्यवाही : डीएम

ग्रामीण अंचलों का निरीक्षण कर डीएम ने वैक्सीनेशन कराने को किया जागरूक ललितपुर। जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार ने ग्राम देवरी, बहादुरपुर, दिगवार, गुरियाना, नाराहट एवं बेटना ग्रामों में वैक्सिनेशन कार्य के जायजा लेने के लिए आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के समय मौके पर उपस्थित ग्रामीणों को जिलाधिकारी ने वैक्सीनेशन के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी तथा उन्हें समझाया कि वैक्सिनेशन कोरोना से बचाव के लिए किया जा रहा है, इसमे किसी भी प्रकार का खतरा नहीं है। किसी के बहकावे में न आएं। उनहोने वैक्सीनेशन के लाभ एवं हानि के बारे में विस्तार से ग्रामीणों को अवगत कराया, साथ ही घर के सभी सदस्यों को जिनकी उम्र 45 वर्ष से अधिक है, को अनिवार्य रूप से वैक्सीनेशन कराने के लिये आह्वान किया ताकि उनकी कोविड-19 महामारी से जीवन की रक्षा की जा सके और संक्रमण से बचा जा सके। मौके पर जिलाधिकारी ने ग्राम निगरानी समितियों को निर्देश दिए कि घर घर जाकर सर्वे का कार्य करें साथ ही सर्विस द्वारा संदिग्ध मरीजों की जांच करें, यदि मरीज धनात्मक पाए जाते हैं तो उन्हें घर पर ही मेडिकल किट उपलब्ध कराते हुए उसके उपयोग की पूरी जानकारी मुहैया कराएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन के मरीजों के घर में यदि अलग से शौचालय की व्यवस्था ना हो तो उन्हें कोविड अस्पताल में भेजें। इसके अलावा गांव में जाने वाली मेडिकल टीमों के साथ यदि कोई भी व्यक्ति अभद्र व्यवहार करता है तो उसके विरुद्ध कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी। इस अवसर पर उन्होंने ग्राम वासियों से अपील की कि स्वास्थ विभाग की टीमें आपके जीवन की रक्षा के लिए आपके घर तक स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचा रही है, उनके साथ किसी भी तरह का दुर्व्यवहार ना करें, बल्कि सकरात्मकता के साथ उनका सहयोग करें। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी/उप जिलाधिकारी तथा नोडल अधिकारी, वैक्सीनेशन को निर्देशित किया कि गॉव-गॉव में अभियान चलाकर शीघ्रातिशीध्र पात्र व्यक्तियों को वैक्सीनेशन कराना सुनिश्चित करें।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हिन्दी में प्रयोग हो रहे किन - कौन किस भाषा के शब्द

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा